जानिए कहां मुस्लिम छात्राएं कर रहीं कांवड़ियों की सेवा

देवघर। झारखंड के देवघर स्थित प्रसिद्ध तीर्थस्थल बैद्यनाथ धाम में सावन के इस पावन महीने में 12वीं की दो छात्राएं सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल पेश कर रही हैं। स्थानीय कॉलेज की दो मुस्लिम छात्राएं सुबह से शाम तक कांवड़ियों की सेवा में जुटी हुई हैं और कांवड़ियों को पंक्तिबद्ध करने में प्रशासन की मदद कर रही हैं।

Muslims Girls

बैद्यनाथ धाम में भगवान शंकर के द्वादश ज्योतिर्लिगों में नौवां ज्योतिर्लिग है। वैसे तो यहां सालभर भक्तों की भीड़ जुटती है, लेकिन महादेव के प्रिय महीने सावन में भक्तों की भीड़ काफी बढ़ जाती है।

इस वर्ष भीड़ को नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन ने कई नए प्रयोग किए हैं। जिले भर से 380 छात्र-छात्राओं का चयन कर ‘पुलिस वोलंटियर’ का नाम देकर उन्हें कांवड़िया पथ पर तैनात किया गया है। ‘पुलिस वोलंटियर’ की तैनाती एक ओर जहां स्थानीय प्रशासन के लिए लाभप्रद साबित हुआ है, वहीं इस टीम में शामिल दो मुस्लिम लड़कियां सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल भी पेश कर रही हैं।

स्थानीय रामादेवी महिला बाजला कॉलेज की छात्रा साईका खातून और मुस्कान सुबह से शाम तक कांवड़ियों को पंक्तिबद्ध कर रही हैं और अगर कोई कांवड़िया गिर रहा है, तो ये दोनों सहिलयां उसे सहारा भी दे रही हैं। पहली बार ऐसे धार्मिक कामों में हाथ बंटा रहीं साईका खातून ने आईएएनएस से कहा, “आगे जब भी ऐसा मौका मिलेगा, हम खुशी-खुशी आगे आएंगी। यह धर्म की बात नहीं है, यह मानव कल्याण की बात है। कोई धर्म मनुष्यों को बांटने की इजाजत नहीं देता।”

साईका की सहेली मुस्कान भी इस पाक काम से खुश हैं। इस नेक काम में उसके परिवार वालों की भी रजामंदी है। मुस्कान कहती हैं, “काम कोई बड़ा या छोटा नहीं होता, हिंदू-मुस्लिम सबको ऐसे पाक काम करना चाहिए।”

ये दोनों सहेलियां हर सोमवार को व्रत भी कर रही हैं। वे कहती हैं कि कुछ लोग अपने फायदे के लिए धर्म के नाम पर लोगों को आपस में बांट रहे हैं। किसी भी धर्म में मानव कल्याण की ही बात है। रामादेवी महिला बाजला कॉलेज की 80 छात्राएं इस पावन काम में जुटी हुई हैं, जिसका नेतृत्व अखिल भारतीय विधार्थी परिषद की मयूरी गुप्ता कर रही हैं। साईका और मुस्कान की तारीफ करते हुए मयूरी कहती हैं, “ये बहुत बड़े बदलाव का संकेत है और सभी को इनसे सीख लेनी चाहिए। जो लोग कई मौकों पर समाज के ताना बाना को धर्म के नाम पर बिगाड़ने का काम करते हैं, उन्हें आकर हम सबको देखना चाहिए।”

देवघर की पुलिस अधीक्षक ए. विजयलक्ष्मी भी पुलिस वोलंटियर के कामों की तारीफ करते हुए कहती हैं कि पुलिस प्रशासन का यह प्रयोग काफी सफल रहा। सभी छात्र-छात्राओं ने बखूबी अपनी भूमिका निभाई है। उल्लेखनीय है कि शिवभक्त सुल्तानगंज से उत्तर वाहिनी गंगा से जलभर कर 105 किलोमीटर की पैदल यात्रा कर बैद्यनाथ धाम पहुंचते हैं और कामना लिंग पर जलाभिषक करते हैं। यहां प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु आते हैं, लेकिन सावन महीने में यहां शिवभक्तों का हुजूम उमड़ पड़ता है। प्रतिदिन यहां करीब एक लाख भक्त यहां आकर ज्योर्तिलिंग पर जलाभिषेक करते हैं। इनकी संख्या सोमवार के दिन और बढ़ जाती है।