जानें कितना शक्तिशाली है अमेरिका का जीयूबी-43 बम?

नई दिल्ली। अमेरिका को दुनिया का सबसे ताकतवर देश कहा जाता है और इसका नमूना अफगानिस्तान में हुए बम हमले से साफतौर पर लगाया जा सकता है। शक्तिशाली होने की वजह से ‘मदर ऑफ ऑल बॉम्ब’ भी कहा गया। लेकिन क्या आपको पता है इस गैर परमाणु बम को बनाने में एमओएबी साल 2003 में तैयार किया था जिसे बनाने में मात्र 9 सप्ताह का समय लगा।

हालांकि ये बम कोई साधारण बम नहीं था। अगर किसी आम बम की बात करें तो उसे एयरक्राफ्ट में लोड करके सीधे ऊपर से नीचे छोड़ दिया जाता है लेकिन ज्यादा वजन होने की वजह सेना को इसे छोड़ने में थोड़ी दिक्कत जरुर हुई। इस बम को MC-130 एयरक्राफ्ट के जरिए ऊपर से नीचे स्लाइड किया गया उसके बाद जीपीएस से कंट्रोल करते हुए निशाना साधा गया। तो चलिए अब आपको इस बम की खासियत के बारे में बताते हैं…

-इस एक बम की कीमत 103 करोड़ है और वजन 10,000 किलो है।

-इसकी ऊंचाई 9 मीटर और चौड़ाई 1 मीटर है।

-इसमें 11 विस्फोटक, 11 टन एच-6, टीएनटी और एल्युमीनियम मौजूद होता है।

-कहा जाता है इस बम की रेंज गिरनेवाली जगह पर 1.5 मील तक सब तबाह कर देता है।

-इसका आकार काफी बड़ा होता है जिसे फाइटर प्लेन के बदले सी-130 कार्गो विमान से गिराया जाता है।

-इसका कवर एल्युमीनियम का बना होता है। इस कारण ब्लास्ट के बाद ज्यादा नुकसान पहुंचता है।