किड़नेप हुआ बच्चा आया वापस : मेरठ

मेरठ के थाना देहली गेट इलाका निवासी से स्क्रेप कारोबारी का कारोबारी का अपह्रत पुत्र लगभग 48 घण्टे बाद रविवार की दोपहर रहस्यमय हालात में अपने घर वापस लौट आया। चर्चा है कि परिजनों ने उसकी रिहाई की एवज में अपहृताओं को एक करोड़ की रकम दी है। हालांकि छात्र के वापस लौटने के बाद परिजनों ने चुप्पी साध ली है।

उत्तरप्रदेश में आपराधिक वारदातें कम होने का नहीं ले रही है,योगी राज होने के बावजूद भी यूपी के बदमाश यूपी पुलिस को चकमा और धमियां देते नजर आ रहे है लेकिन यूपी की पुलिस हाथ पर हाथ रखे बेठी हुई है।

गौरतलब है कि जली कोठी व्यापार संघ के अध्यक्ष स्क्रेप कारोबारी पटेल नगर निवासी मौ इरफान का पुत्र अरशम गुरू तेग बहादुर स्कूल में कक्षा दस का छात्र है। अरशम शुक्रवार की दोपहर से लापता था। उसके ही मोबाइल से परिजनों के मोबाइल पर कॉल करके अपहृताओं ने दो करोड़ की डिमांड की थी। शनिवार को इरफान ने अपहृताओं को एक करोड़ की रकम देने की हामी भर दी थी। जिसके बाद रविवार को अरशम घर वापस लौट आया। पुलिस के आला अधिकारी ने अरशम के घर वापस लौटने की पुष्टि की है। हालांकि वह क्यों और कहां चला गया था, इस बात को लेकर परिजनों से लेकर पुलिस तक ने चुप्पी साध ली है। अरशम की वापसी के बाद उसके घर पर मिलने वालों का तांता लग गया, लेकिन सिर्फ चुनिंदा व्यक्तियों को ही घर में एंट्री दी गई। चर्चा है कि अरशम की रिहाई की कीमत के रूप में एक करोड़ की रकम अदा की गई है।