प्राइवेट अस्पतालों में फ्री सर्जरी स्कीम की शुरूआत करेंगे केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज दिल्लीवालों के लिए ‘प्राइवेट अस्पतालों में फ्री सर्जरी स्कीम’ की शुरूआत करेंगे। इस योजना का उदघाटन नई दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में आयोजित एक भव्य समारोह में किया जायेगा। इस स्कीम के लागू होने के बाद सरकारी अस्पतालों में सर्जरी की डेट एक महीना से ज्यादा होने पर दिल्ली के लोगों की सर्जरी निजी अस्पतालों में फ्री में हो सकेगी।

दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि यह योजना मुख्यमंत्री की पंसदीदा योजना है। यह योजना स्वास्थ्य क्षेत्र की सबसे प्रसिद्ध योजना साबित होगी। इससे सीख लेकर अन्य राज्य भी अपने यहां इस योजना को लागू करेंगे। स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने स्वयं इसके प्रत्येक पहलु पर बारीकी से नजर रखी है। इसका सफल ट्रायल होने के बाद ही सरकार ने आज इस योजना को शुरू करने की तिथि निर्धारित की है। उन्होंने बताया कि सरकार ने इस योजना को लेकर स्वास्थ्य क्षेत्र के विशेषज्ञों एवं सभी विभागों के डॉक्टरों के साथ भी विस्तृत चर्चा की है। इस दौरान इसकी खामियों पर गंभीरता से विचार कर उन्हें दूर किया गया ताकि मरीजों को स्कीम के दौरान कोई परेशानी न हो। इस योजना के दायरे में एक्सीडेंटल केसों को भी लाया गया है। अब एक्सीडेंट के मरीजों को सीधे नजदीकी प्राइवेट अस्पताल में लाया जायेगा। सरकार यहां उनके ईलाज पर भी नजर बनाये रखेगी। इसके अलावा सरकार अब दिल्ली के स्वायत्त चिकित्सा संस्थानों में भी इलाज खर्च को सस्ता करने की तैयारी कर रही है।

बता दें कि अब तक दिल्ली सरकार के अस्पतालों में ही मरीजों को फ्री ईलाज एवं सर्जरी की सुविधा उपलब्ध थी। फिलहाल राजधानी के 34 सरकारी अस्पतालों में एक जैसी दर पर इलाज की व्यवस्था है। हालांकि, 6 स्वायत्त चिकित्सा संस्थानों (मौलाना आजाद डेंटल कॉलेज, दिल्ली स्टेट कैंसर अस्पताल, चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय, आईएलबीएस, जनकपुरी सुपर स्पेशलिटी और राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी) में इलाज का खर्च ज्यादा है। जिसके चलते सरकार ने यह योजना बनाई है।