लोकायुक्त को कपिल मिश्रा सौपेंगे भ्रष्टाचार के सबूत

नई दिल्ली। करावल नगर से आप विधायक और दिल्ली सरकार के बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन के कथित भ्रष्टाचार के सबूत लोकायुक्त को सौंपेंगे। मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि वे सत्येन्द्र जैन एवं केजरीवाल के खिलाफ पहले ही लोकायुक्त में शिकायत कर चुके हैं। अब वे 6 जुलाई को सीएम एवं स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार के सात मामलों के दस्तावेजी सबूत लोकायुक्त रेवा खेत्रपाल को सौंपेंगे। इन मामलों में केजरीवाल एवं जैन के बीच दो करोड़ के लेनदेन,आप नेताओं के विदेश दौरे, जलबोर्ड टैंकर घोटाले की जांच में देरी,​फर्जी कंपनियों द्वारा हवाला के जरिये आप को चंदा तथा केजरीवाल के साढू स्वर्गीय सुरेन्द्र बसंल की कंस्ट्रक्शन कंपनी के बिल लोक निर्माण विभाग से क्लियर कराना आदि शामिल हैं। मिश्रा इन मामलों में पहले ही लोकायुक्त में अपने बयान दर्ज करा चुके हैं।

बता दें कि बीते दिनों भष्टाचार के सबूत लेकर कपिल मिश्रा कुमार विश्वास के घर भी गए थे पर उस वक्त कुमार नहीं मिले थे। तब से कपिल मिश्रा लगातार कुमार विश्वास से भ्रष्टाचार के मामलों पर उनकी राय जानने की कोशिश में जुटे थे। कपिल ने इस मसले में ट्वीट करके बताया कि कुमार विश्वास ने 16 हजार पन्नो का सबूत इंडिया अगेंस्ट करप्शन के एक कार्यकर्ता प्रभात के द्वारा स्वीकार कर लिया है और कहा है कि तीन दिनो में इसका जवाब देंगे।

वहीं कपिल मिश्रा ने इन सभी सबूतों को दो दिन के भीतर यानी मंगलवार तक लोकायुक्त को देने की बात कही है। कपिल ने कहा कि वो पहले ही केजरीवाल और उनके सहयोगियों के खिलाफ कई एफआईआर, सीबीआई और एसीबी में दर्ज करा चुके है अब लोकायुक्त में भी भ्रष्टाचार के सबूत देंगे। आम आदमी पार्टी से बर्खास्त होने के बाद कपिल मिश्रा लगातार केजरीवाल और दिल्ली सरकार पर हमला बोल रहे हैं। उन्होंने कई बार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सार्वजनिक तौर पर दिल्ली सरकार और केजरीवाल पर गंभीर आरोप भी लगाए हैं।