जयललिता के खास मित्र चो रामास्वामी का निधन

 

चेन्नई| पत्रकार, राजनीतिक विश्लेषक, अभिनेता चो रामास्वामी का बुधवार को चेन्नई के अपोलो अस्पताल में निधन हो गया। वह 82 वर्ष के थे। राज्यसभा के पूर्व सांसद रामास्वामी कुछ समय से बीमार चल रहे थे और अस्पताल में भर्ती थे। उन्होंने बुधवार को सुबह चार बजे अंतिम सांस ली। उनके पार्थिव शरीर को यहां स्थित उनके घर में लाया गया है। रामास्वामी राजनीतिक पत्रिका ‘तुगलक’ के संस्थापक व संपादक थे और बेबाकी से राज्य व केंद्र सरकार की आलोचना किया करते थे।

cho-ramaswmi

रामास्वामी के देश के कई राजनेताओं के साथ घनिष्ठ संबंध थे। तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री और एआईएडीएमके महासचिव जे. जयललिता उनकी अच्छी मित्र थीं। बहुआयामी शख्सियत के मालिक रामास्वामी नाटकों का लेखन और उनमें अभिनय भी करते थे। उन्होंने कई फिल्मों का निर्देशन और पटकथा लेखन भी किया था। रामास्वामी ने एम.जी. रामाचंद्रन, शिवाजी गणेशन, जयललिता, कमल हासन, रजनीकांत जैसे दिग्गज कलाकारों के साथ फिल्मों में भी अभिनय किया था। वह बी.आर.सी. क्रिकेट क्लब के सदस्य थे।

रामास्वामी ने 1957-63 के बीच मद्रास उच्च न्यायालय में वकालत भी की थी। वह 1978 तक टी.टी.के. एंड कंपनी के कानूनी सलाहकार भी थे। रामास्वामी ने 20 से भी अधिक तमिल नाटकों का लेखन, निर्देशन और उनमें अभिनय किया था, जिनका 5,000 से भी ज्यादा बार मंचन किया गया था। उन्होंने 14 फिल्मों की पटकथा लिखी थी और चार फिल्मों का निर्देशन किया था। उन्होंने छोटे पर्दे के लिए भी तमिल भाषा में कई धारावाहिकों का लेखन, निर्देशन और साथ ही उनमें अभिनय भी किया था।