नोटबंदी के विरोध में जन अधिकार पार्टी ने किया चक्का जाम

पटना। केंद्र सरकार की नोटबंदी के खिलाफ सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी (जाप) का आंदोलन जारी है। इस कड़ी में गुरुवार को जाप के बिहार में किए गए चक्का जाम आंदोलन का कई क्षेत्रों में आवागमन पर प्रतिकूल प्रभाव देखा गया, जिससे आम लोग परेशान रहे। सांसद पप्पू यादव खुद पटना की सड़कों पर उतरे और जीरो माइल क्षेत्र के पास सड़क जाम में शामिल हुए। पप्पू यादव के नेतृत्व में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 30 को जाम कर प्रदर्शन किया गया। इससे जीरो माइल के पास बाइपास पर गाड़ियों की लंबी कतारें लग गईं। पप्पू यादव ने इस दौरान नोटबंदी के लिए केंद्र सरकार की जमकर आलोचना की।

currency

सांसद पप्पू यादव ने कहा कि नोटबंदी के खिलाफ अब आरपार की लड़ाई होगी। केंद्र सरकार बेनामी संपत्ति का भी पता लगाए और उसे जब्त कर गरीबों में बांटे। उन्होंने इस चक्का जाम को सफल करार देते हुए कहा कि आम लोग नोटबंदी के विरोध में उतरे हैं। यह लड़ाई अब जारी रहेगी।

पटना के मनेर और बाढ़ तथा पूर्णिया, कटिहार, अररिया में भी जाप कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे और मार्ग अवरुद्ध कर नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन किए। सीतामढ़ी में बंद समर्थकों ने कारगिल चौक पर करीब 45 मिनट तक सड़क जाम किया। मधेपुरा के कॉलेज चौक और खगड़िया में भी जाप कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतरकर टायरों को जलाकर मार्ग जाम किए। बता दें कि जाप ने नोटबंदी के विरोध में 20 दिसंबर को बिहार में रेल चक्का जाम किया था।