जैन मुनि का बड़ा बयान, तीन तलाक का समर्थन करने वालों को बताया महिला विरोधी

जयपुर। अपने कड़वे प्रवचनों और कठोर शब्दों के लिए प्रख्यात जैन मुनि तरुण सागर ने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। इस दौरान जैन मुनि ने तीन तलाक सहीत पाकिस्तान की सरजमीं पर आतंकवादियों को संरक्षण, आजीवन सजायाफ्ता लोगों के चुनाव नहीं लड़ने, ज्योतिषियों और तांत्रिकों को घर में प्रवेश नहीं देने, राजनीति और धर्म जैस कई मुद्दो पर अपनी बात रखी। एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए तरुण महाराज ने कहा कि तीन तलाक पर रोक का विरोध करने वाला देश या समाज का नहीं बल्कि महिला विरोधी है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी सरजमीं पर आतंकवादियों को आश्रय देना बंद कर दे तो वह राष्ट्र पूरी दुनिया का लाडला बन सकता है।

उन्होंने कहा कि आज राजनीतिक विकृत हो चुकी है इसलिए शरीफ लोगों का राजनीति में आना जरूरी हो गया है। राजनीति और धर्म का आपस में संबंध बताते हुए मुनि ने कहा कि राजनीति धर्म के अनुशासन में रहती है क्योंकि अगर ऐसा नहीं होगा तो राजनीतिक हाथी के समान हो जाएगी। मुनि ने कहा कि अगर घर में सुख-शांति चाहते हैं तो ज्योतिषि व तांत्रिक को घर में मत आने दो। इनकी महिलाएं ज्यादा शिकार होती हैं। देश में इनसे अंधविश्वास बढ़ता जा रहा है। सुबह हर टीवी चैनल में लोगों का राशि के अनुसार भविष्य बताया जाता है। पढ़े-लिखे लोग भी बेवकूफ बन रहे हैं। जबकि एक ही राशि के दो व्यक्तियों का एक समान भविष्य नहीं हो सकता।