1 जुलाई से पहले बजारों में सेल, जीएसटी लागू होने से पहले शुरू हुई ऑफर्स की बारिश

नई दिल्ली। जीएसटी लागू होने में अब बहुत ही कम समय बाकी रह गया है। ऐसे में पूरे देश में ऐमजोन से लेकर बिग बाजार तक सभी रिटेलर्स अपना-अपना स्टॉक खाली करने में जुट गए हैं। वहीं ग्राहकों के लिए ये अपने शौक पूरा रने का सुनहरा मौका है। क्योंकि जीएसटी से पहले स्टॉक खाली करने की ललक में सभी रिटेलर्स ने ऑफर की बारिश शुरू कर दी है। मतलब फ्यूचर ग्रुप का बिग बाजार 30 जून की आधी रात से 22 प्रतिशत तक की छूट के साथ सेल शुरू करने जा रहा है जबकि ऑनलाइन मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट बुधवार की आधी रात से ही सेल शुरू कर चुका है। इधर, फ्लिपकार्ट की प्रतिस्पर्धी कंपनी ऐमजॉन भी कन्ज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स और होम अप्लायंसेज पर 40 से 50 प्रतिशत तका का डिस्काउंट ऑफर कर रही है। हालांकि, ऐमजॉन का कहना है कि यह कोई जीएसटी से पहले का ऑफर नहीं है।

बता दें कि प्री-जीएसटी सेल में नई टीवी खरीदनेवाले मुंबई के मुकेश सलूजा का कहना है कि अगर आपको 1 लाख रुपये का टीवी 60 हजार रुपये से भी कम में मिल जाता है तो आप खुद को रोक नहीं पाते और अपने मित्रों को भी इसकी जानकारी देते हैं। शॉपिंग का यह सुनहरा मौका है।’ 35 वर्षीय मुकेश एक प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं। इधर, इन्फिनिटी रिटेल के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर रितेष गोयल ने बताया कि कन्ज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड ड्युरेबल्स के ज्यादातर ऑफलाइन रिटेलर छह महीने से ज्यादा पुराने स्टॉक्स खाली करने पर तुले हैं क्योंकि उन्हें इन पर जीएसटी के बाद पूरा फायदा नहीं मिल पाएगा।

वहीं रिटेलर्स कपड़े, जूते और अक्सेसरीज पर भी जबर्दस्त छूट मिल रही है। मोबाइल वॉलिट कंपनी पेटीएम भी हाल ही में ऑनलाइन स्टोर पेटीएम मॉल लॉन्च किया है और एक महीने में इस प्लैटफॉर्म पर ट्रैफिक तीन गुना बढ़ गई है। पेटीएम मॉल के सीओओ अमित सिन्हा ने कहा कि प्री-जीएसटी सेल के तहत हम रिटेलर्स को उनकी इन्वेंटरी क्लियर करने में मदद की कोशिश कर रहे हैं।

हालांकि, ज्यादातर जीएसटी सेल 30 जून को ही खत्म होने जा रही, लेकिन फ्यूचर ग्रुप के सीईओ किशोर बियानी ने कहा कि 1 जुलाई तो सिर्फ शुरुआत है। उन्होंने कहा कि जीएसटी के आते ही टूथपेस्ट समेत रोजमर्रा की जरूरतों के कई सामानों के दाम घटने जा रहे हैं। लेकिन, एफएमसीजी कंपनियां मन बदलने को तैयार नहीं दिख रहीं और उनका कहना है कि वो वेट ऐंड वॉच पॉलिसी अपनाएंगे। इससे 1 जुलाई के बाद ऑफर्स एक कोशिश है दामों को कम करने की।