जाने रात में सोते वक्त अंडरगारमेंट्स पहनना सही है या नहीं

नई दिल्ली। लोगों के मन में अपने अंडरगारमेंट्स को लेकर कई सारे सवाल आते हैं। जैसे रात को सोते वक्त अंडरगारमेंट पहनना सही है या नहीं। लोग यही सोचते रहते हैं कि रात में अंडरगारमेंट पहनकर सोना स्वास्थ्य के लिए कितना सही है। बता दें कि अगर आप रात में बिना अंडरगारमेंट्स के सोते हैं तो ये आपकी त्वचा के लिए नुकसान दायक साबित हो सकता है। बिना अंडरगारमेंट्स के सोने से आपकी त्वचा की नमी कम हो जाती है और बैकटीरिया आदि पनपते हैं। जिन लोगों को अकसर प्राइवेट पार्ट में संक्रामण हो जाता है उन लोगों को इस बात का खास ध्यान रखना जरूरी है।

इस बात की पुष्टी दो महिलाओं पर प्रेक्टिकल किया गया जिसके बाद सामने आया कि जो महिला अंडरगारमेंट्स के साथ सोती थी उसको कोई परेशानी नहीं हुई लेकिन जो बिना अंडरगामेंट्स के सोती थी उसके शरीर में बैडशीट के कारण कई तरह के संक्रमण हो गए। अकसर कई लोगों को बैडशीट और टॉवल के कारण संक्रमण फैल जाता है। लेकिन अगर आप रात में अंडरगारमेंट्स पहन कर सोएंगे तो इन संक्रमण से बच सकते हैं। इससे बचने के लिए कई प्रकार बताए गए हैं।

निजी अंगों की होती है सुरक्षा

रात के वक्त अंडरगारमेंट पहनने से प्राइवेट पार्ट की सुरक्षा होती है। इससे उन्हे न तो कई चोट पहुंचती है और न ही किसी तरह का संक्रमण होता है।

शरीर में नहीं होता ड्राइनेस

रात में अंडरगारमेंट पहन कर सोने से आपके त्वचा ड्राइ नहीं होती और न ही किसी तरह के बैक्टिरियल इंफैक्शन होता है। मेनोपॉज होने पर अपने अंडरगारमेंच को वक्त-वक्त पर बदलते रहे। ताकि इंफैक्शन न हो।

बॉडी सहजता रहती है

अंडरगारमेंट पहनने से सहजता बनी रहती है। इससे आप कम्फरेट रहते हैं और कॉन्फिडेंट भी बना रहता है। रात के वक्त अचानक किसी के सामने आ जाने के कारण आपको शर्मिंदा भा नहीं होने पड़ता आपको ऐसा नहीं लगता कि आपने कुछ पहना नहीं है।

स्वच्छ रखते हैं अंडरगारमेंट

अंडरगारमेंट पहनकर सोने से आप स्वच्छ रहते हैं। इससे आपको हाईजिन मतलब स्वच्छता के नजरिेए से भी सही रहते हैं। इससे प्राइवेट पार्ट कवर रहते हैं और कोई इंफैक्शन भी नहीं होता है।