समंदर के तट पर कर रहा था सेक्स, पुलिस ने किया गिरफ्तार

रबात। मोरक्को के इस्लामी संगठन के दो वरिष्ठ पदाधिकारियों को पुलिस ने कासाबलांका के उत्तर में एक समुद्र तट पर एक कार में सेक्स करते गिरफ्तार किया है। कासाबलांका उत्तर अफ्रीकी देश मोरक्को की व्यापारिक राजधानी है। यह संगठन जिन बातों का प्रचार करता है, उसमें शुद्धतावादी विश्व दृष्टिकोण भी शामिल है जिसके तहत व्याभिचार की सजा मौत मानी जाती है। अधिकारियों ने इनके पकड़े जाने की पुष्टि की है।

Arrest

माउले उमर बेन हमाद रबात में कला संकाय में इस्लामिक स्टडीज के प्रोफेसर हैं और शादी से इनके सात बच्चे हैं। फातिमा नेज्जार विधवा हैं और छह बच्चों की मां हैं। दोनों को 20 अगस्त को पुलिस ने एक मर्सीडीज कार में मोहम्मदिया इलाके में अलमंसूरिया समुद्र तट के पास आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा। पुलिस और मोरक्को के अधिकारियों ने बताया कि दोनों मूवमेंट फॉर यूनिफिकेशन एंड रिफार्म (एमयूआर) के पहले और दूसरे उपाध्यक्ष हैं। गिरफ्तारी के एक दिन बाद दोनों को अभियोजक के पास पेश किया गया। दोनों की सशर्त रिहाई हुई है और मुकदमे की सुनवाई एक सितंबर को तय की गई है।

बेन हमाद वर्ल्ड यूनियन ऑफ मुस्लिम उलेमा के सदस्य एवं लीग आफ उलेमा अहल-असुन्ना के महासचिव हैं जो उन्हें खासकर रमजान के महीने में एमयूआर के एक विशेष दूत के रूप में धर्मोपदेश देने के लिए विदेश भेजता है। हमाद को दार अल कुरान नामक एक संगठन के मुख्य प्रचारक के रूप में भी जाना जाता है। इसका गठन मोहम्मदिया में वर्ष 1996 में 14 फरवरी को किया गया था। यह बच्चों को कुरान पढ़ाने के लिए समर्पित है। हमाद ने शुक्रवार की नमाज में खातिब के रूप में भी काम किया है।

हमाद की इस्लामिक राजनीति दल जस्टिस एंड डेवलपमेंट के युवा सदस्यों को धर्मोपदेश देने के मामले में अच्छी साख है। महिला फातिमा नेज्जारी भी बहुत प्रतिष्ठित एवं चर्चित तकरीर करने वाली हैं। शुद्धता, धर्माचरण, सतीत्व पर फातिमा के अनगिनत धार्मिक व्याख्यान यू ट्यूब पर पड़े हैं। मोरक्को के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस घटना ने इस्लाम धर्म को बदनाम करने वाले पाखंडियों को बेनकाब किया है।