IPL फाइनल में होगा मुंबई-पुणे के बीच मुकाबला

नई दिल्ली। आईपीएल का वो वक्त आ ही गया जिसका लोग बड़ी बेसब्री से इंतेजार कर रहे थे। जी हां हम बात कर रहे हैं आईपीएल के फाइनल की जो अब होने जा रहा है। आईपीएल के फाइनल की जंग शुरू होने वाली है। जिसमें मुंबई का मुकाबला पुणे से होने वाला है ये फाइनल हैदराबाद में खेला जाएगा। मुंबई दो बार आईपीएल चैम्पियन रह चुकी है। इस बार उसके सामने फाइनल में वो टीम है जो मुंबई को इस आईपीएल में तीन बार हरा चुकी है, पहली बार फाइनल में पहुंची पुणे की टीम फिर बड़ा उलटफेर कर सकती है।

बता दें कि इस फाइनल को लेकर सबके मन में एक सवाल है कि क्या क्या पुणे को हराकर आईपीएल में रोहित एक बार फिर राज करेंगे। इस सवाल के जबाव को अगर आंकड़ों में ढूंढ़ा जाए तो तो जवाब यही मिलेगा कि आईपीएल के इस सीजन से पहले मुंबई पिछले दस सालों में दो बार अपना दम दिखाकर ही चैम्पियन बनी है। मुंबई की टीम अब तक 4 बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है। साल 2010 में वो फाइनल नहीं जीत पाई लेकिन 2013 और 2015 में मुंबई ने अपना दम दिखाकर चैम्पियन बनी। दोनों ही टीमों ने इस बार मुंबई ने धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स को फाइनल में मात दी। इस आईपीएल में भी मुंबई ने हार के साथ शुरुआत की थी। हार का पहला जख्म पुणे ने ही दिया था। लेकिन इसके बाद मुंबई ने लय पकड़ी। लीग मैचों में 14 मैचों में से 10 मैच मुंबई ने जीते और चैम्पियनों की तरह अंक तालिका में टॉप पर बनी रही।

मुंबई टीम के महारथी

मुंबई के पास बेहतरीन बल्लेबाज खिलाड़ी है जैसे- रोहित शर्मा, लेंडल सिमंस, हार्दिक पांड्या, केरॉन पोलार्ड, पार्थिव पटेल, नीतीश राणा, कृणाल पांड्या धाकड़ बल्लेबाज शामिल हैं।
इसके अलावा मुंबई की टीम में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी है जिन्हें कभी भी मैच का रूख बदलने के लिए जाना जाता है। जी हां हम बात कर रहे हैं जसप्रीत बुमराह, मिचेल मैक्लेगन, मिचेल जॉनसन, लसिथ मलिंगा, कर्ण शर्मा जैसे गेंदबाजों की।

पूणे किसके दम पर उतरेगी फाइनल में

अगर किसी के मन में ये सवाल है कि आखिर पुणे किसके दम पर फाइनल में खेलेगी तो इसका बहुत ही सीधा सा जवाब है दुनिया के सबसे बेहतरीन फिनिशर और ठंडे दिमाग के खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी। इस सीजन में वो पुणे टीम के कप्तान तो नहीं हैं लेकिन बल्लेबाजी के सुल्तान जरूर हैं। मुंबई को हराकर ही पुणे ने फाइनल में पहली बार एंट्री मारी है। धोनी ने मुंबई के खिलाफ 26 गेंद पर 40 रन की पारी खेली। इस पारी में उन्होंने 5 छक्के लगाए। इस सीजन में धोनी ने 280 रन बनाए हैं।

ये हैं पुणे टीम के महारथी

कप्तान स्टीव स्मिथ, युवा राहुल त्रिपाठी और रहाणे बल्लेबाजी को मजबूती देते हैं तो गेंदबाजी में जयदेव उनादकट और वाशिंगटन सुंदर मुंबई को फाइनल में रोकेंगे। उनादकट ने इस सीजन में अब तक 22 तो वहीं वाशिंगटन सुंदर ने 8 विकेट निकाले हैं।