देवभूमि उत्तराखंड में किया गया योग

देहरादून। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर सुबह देवभूमि से ही जगह-जगह पर योग करने के लिए योग शिविरों का आयोजन किया गया।पहाड़ों से लेकर मैदान तक उत्तराखंड की धरती योगमयी हो रखी है। शहरों, कस्बों और गांव तक योग शिविर आयोजित किए गए।

इनमें हजारों लोगों ने भाग लिया। देहरादून में आयोजित मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा की विश्वभर में जब आज लोग योग कर रहे होंगे, लेकिन भारत की उस भूमि का ख्याल भी उनके जहन में होगा जहां से योग की उत्पत्ति हुई। उन्होंने कहा की योग शारीरिक ही नहीं व्यक्ति को मन से भी स्वस्थ रखता है। ये ईश्वर तक पहुंचने का भी मार्ग है। आयुष मंत्री डा हरक सिंह रावत हजारों वर्ष पहले हमारे श्रषि मुनियों ने देश ही नहीं बल्कि दुनिया को स्वस्थ जीवन का मंत्र दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे एक विश्वव्यापी अभियान का रूप दिया।उन्होंने स्वस्थ व स्वच्छ उत्तराखंड का संकल्प दोहराया।

उत्तराखंड के सभी शहरों से लेकर गांवों तक योग शिवरों का आयोजन किया गया जहां पर सभी लोगों ने योग किया, शहर के नेहरू स्टेडियम में भारत स्वाभिमान न्यास और पतंजलि योग समिति की ओर से योग कार्यक्रम में हजारों की संख्या में शहरवासी योगाभ्यास करने के लिए पहुंचे। बीइजी के पवेलियन ग्राउंड में सैनिकों ने भी योग किया।

वहीं उत्तरकाशी में जिला प्रशासन की ओर से योग शिविर आयोजन किया गया,जिसमें विधायक गोपाल रावत, पूर्व विधायक विजय पाल सजवाण ,जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव, एसपी ददन पाल समेत कई अधिकारि पहुंचे और योग किया। भाजपा की ओर जीजीआईसी उत्तरकाशी में योग कार्यक्रम आयोजित किया गया। नगर पालिका की ओर से पालिका सभागार में योग शिविर लगाया। जिसमें विदेशी साधको के साथ स्थानीय लोगों ने भाग लिया। आदर्श सांसद गांव बौन में योग शिविर लगाया गया।

हरिद्वार में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा योग भारत की प्राचीन परंपरा है, आज पूरी दुनिया योगमय हो चुकी है ,यह गौरव की बात है। वहीं शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा विश्व को योग भारत की देन है। कुमाऊं के चंपावत में क्षेत्रीय विधायक कैलाश गहतोड़ी ने दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का उद्घाटन किया। गोरल मैदान में योग शिक्षकों ने साधकों को योग क्रियाओं की जानकारी दी। योग करने के लिए जनप्रतिनिधि, जिलास्तरीय अधिकारी, स्कूली बच्चे और तमाम लोग सुबह से ही मैदान में पहुंच गए थे।

अल्मोड़ा में कुमाऊं विवि के एसएसजे परिसर के सिमकनी मैदान में योग समारोह आयोजित हुआ। जिसका शुभारंभ मुख्य अतिथि केंद्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा द्वारा किया गया। उन्होंने योग दिवस की बधाई दी और कहा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल से आज भारत के साथ 130 देश योग दिवस मना रहे है। तन और मन को तंदरुस्त रखने के लिए योग को नियमित रुप से करना सेहत के लिए लाभदायक होता है,नियमित रुप से योग करने व्यक्ति को कभी बिमारियां नहीं होता है।

ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट में आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा की ऋषिकेश योग की जननी है। यह समूचा क्षेत्र विश्व में योग की राजधानी के रूप में जाना जाता है। उन्होंने कहा की ऋषिकेश का प्रत्येक नागरिक योग का ब्रांड एंबेसडर बने इसके लिए जरूरी है वह इस क्षेत्र की पावनता को बनाए रखने के लिए भारत स्वछता अभियान को पूर्ण रुप से सफल बनाएं। पौड़ी में मुख्यालय के इंडोर स्टेडियम में आयोजित योग शिविर का जिला पंचायत अधयक्ष दीप्ति रावत,प्रभारी जिलाधिकारी विजय कुमार जोगदंडे द्वारा दीप प्रजवलित कर शुभारंभ किया। जहां पर सैकड़ो की संख्या में लोगों ने योग किया।