अपने 3000 कर्मचारियों को निकालेगी इंफोसिस

बेंगलुरू। वैश्विक सॉफ्टवेयर कंपनी इंफोसिस लिमिटेड जल्द ही अपने 3000 प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों को निकाल देगी। इसकी वजह यह है कि रॉयल बैंक ऑफ स्कॉटलैंड (आरबीएस) ने एक नया बैंक (विलियम्स एंड ग्लीन) स्थापित करने का अनुबंध रद्द कर दिया है। इसका खुलासा आईटी क्षेत्र की इस प्रमुख कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर किया है, लेकिन इसके विवरण मीडिया को नहीं दिए गए हैं। कंपनी ने कहा है, “इस (आरबीएस) फैसले के बाद, हम अगले कुछ महीनों के दौरान मुख्य रूप से भारत में करीब 3,000 कर्मियों को मुक्त कर देंगे।”

Infosys

एडिनबर्ग के आरबीएस ने पिछले सप्ताह घोषणा किया था कि वह अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए अलग और नया यूके (ब्रिटिश) बैंक (डब्ल्यू एंड जी) बनाने के बजाय व्यापार विनिवेश के दूसरे विकल्पों की योजना को आगे बढ़ाएगा। आईटी आउटसोर्सिग कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर कहा है, “हमें डब्ल्यू एंड जी कार्यक्रम में परामर्श देने, अनुप्रयोग वितरण और परीक्षण सेवाओं के लिए प्रद्यौगिकी भागीदार बनाया गया है।”

कंपनी सूत्रों ने यहां मंगलवार को कहा कि आरबीएस ने अपने प्रस्तावित डब्ल्यू एंड जी बैंक को आईटी सेवाएं मुहैया कराने के लिए इंफोसिस और अमेरिकी सॉफ्टवेयर कंपनी आईबीएम के साथ पांच साल के लिए लाखों डॉलर के अनुबंध पर हस्ताक्षर किया था। कंपनी ने कहा, “आरबीएस से रिश्ता हमारे लिए महत्वपूर्ण है, हम इसके साथ अन्य रूपांतरकारी कार्यक्रमों के लिए काम करने और अपनी रणनीतिक साझेदारी को मजबूत बनाने को उत्सुक हैं।”