जूनियर हॉकी विश्व कप में भारत ने जीत के साथ किया आगाज

लखनऊ। भारतीय हॉकी टीम ने जूनियर विश्व कप में जीत के साथ आगाज किया। मेजबानों ने गुरुवार को विश्व कप के अपने पहले मैच में कनाडा को 4-0 से मात देकर इतिहास बना दिया। मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में खेले गए इस मैच में भारत के लिए मनदीप सिंह, हरमनप्रीत सिंह, वरुण कुमार और अजीत कुमार पांडे ने गोल किए। यह सभी गोल दूसरे हाफ में हुए। मैच की शुरुआत से ही भारतीय टीम ने शानदार हॉकी का प्रदर्शन करते हुए कनाडा को छकाए रखा। लेकिन, मेहमान टीम ने भी मेजबानों को पहले हाफ में अपने शानदार रक्षात्मक खेल से गोल करने से दूर रखा।

fog

पहले हाफ की शुरुआत में भारत को दो पेनाल्टी कॉर्नर मिले लेकिन वह उन्हें गोल में नहीं बदल पाया। 10वें िंमनट में हरमनप्रीत के शॉट को कनाडा के गोलकीपर ने रोक भारत को बढ़त लेने से रोक दिया। कुछ देर बाद भारत को दूसरा पेनाल्टी कॉर्नर मिला लेकिन इस बार अजित पांडे गोल करने में सफल नहीं रहे। भारत ने पहले हाफ के अंत तक आते-आते आक्रामक रवैया अपनाना शुरू कर दिया और इसके कारण उसे मौके भी मिले। लेकिन, किस्मत और मेहमानों के डिफेंस ने उसे बढ़त नहीं लेने दी। मनदीप ने आखिरकार हाफ का अंत होने से कुछ देर पहले 35वें मिनट में रिबाउंड पर गोल करते हुए टीम को बढ़त दिला दी।

दूसरे हाफ में भारत के पास अपनी बढ़त को बढ़ाने के बेहतरीन मौके मिले। उसे लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर मिले लेकिन वह गोल में तब्दील नहीं हो सके। इसके तुरंत बाद 46वें मिनट में मेजबानों को पेनाल्टी स्ट्रोक मिला जिसे हरमनप्रीत ने गोल में बदलने में कोई गलती नहीं की। 2-0 से पिछड़ने का दबाव कनाडा पर साफ दिखा। टीम भारतीय आक्रमण को रोक नहीं पा रही थी। भारत को कनाडा के कमजोर खेल का फायदा मिला और 60वें मिनट में रैफरी ने मेजबानों को एक और पेनाल्टी कॉर्नर दिया। वरुण ने इस बार पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलने में गलती नहीं की और अपनी टीम को 3-0 से आगे कर दिया। छह मिनट बाद ही अजित ने आसान फील्ड गोल करते हुए स्कोर भारत के पक्ष में 4-0 कर दिया।