अगले महीने मिग-21 उड़ाकर इतिहास रचने को तैयार ये 3 भारतीय महिलाएं

नई दिल्ली। भारतीय वायु सेना के पहले महिला लड़ाकू विमान पायलट बैच को सबसे पहले मिग-21 उड़ाने का मौका मिलेगा। वायु सेना स्थापना दिवस कार्यक्रम के बाद प्रेस से बातचीत में वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कहा कि महिला पायलटों का पहला बैच मिग-21 बाइसन जेट उड़ाएगा। तीन महिला विमान चालक-अवनि चतुर्वेदी, भावना कंठ और मोहना सिंह तीन हफ्ते की कठिन-कठोर प्रशिक्षण पूरा करने जब सैन्य जेट उड़ाएंगी तो वे एक नया इतिहास रचेंगी।

women fighter pilot
women fighter pilot

बीत दें कि चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा, फिलहाल उन्हें मिग 21 बाइसन स्क्वाड्रन में डालने का विचार है। हमारा विचार है कि यह उनके कौशल को निखारेगा क्योंकि इस विमान में अन्य आधुनिक विमान की तुलना में ज्यादा मैनुअल फीचर हैं। एयर चीफ मार्शल धनोआ ने इंगित किया कि मिग 21 बाइसन उड़ा कर अपना कौशल निखारने के बाद तीनों महिलाएं दूसरे जेट उड़ा सकती हैं।

वहीं तीनों महिलाओं को पिछले साल जुलाई में फ्लाइंग आफिसर के रूप में कमिशन मिला है। तीनों महिला विमान चालकों के प्रशिक्षण से जुड़े वायुसेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वे अगले महीने युद्धक जेट उड़ाएंगी। अभी तीनों महिला विमान चालक हॉक एडवांस्ड जेट ट्रेनर उड़ा रही हैं। भारतीय वायुसेना ने पहले ही युद्धक विमान चालकों के लिए तीन प्रशिक्षु महिला विमान चालकों का अगला जत्था चुन लिया है।