सुपर लीग में होगी दिल्ली भिड़ंत कोलकाता से

कोच्चि। केरला ब्लास्टर्स का रविवार को अपने घरेलू-जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के तीसरे सीजन के दूसरे सेमीफाइनल का पहले चरण का मुकाबला दिल्ली डायनामोज के खिलाफ होगा। घरेलू माहौल में मुकाबला होने के कारण केरल की टीम दिल्ली पर भारी पड़ सकती है लेकिन कोच स्टीव कोपेल ने अपनी टीम से कहा है कि वह न तो इस बात पर ध्यान दे कि वह घर में खेल रही है और न ही इस पर कि घर में उसका रिकार्ड इस सीजन में बहुत अच्छा रहा है। केरल ने इस सीजन में अपने घर में लगातार पांच मैच जीते हैं। यहां इस टीम को घरेलू समर्थकों का जबरदस्त साथ मिला है और इस बार यह समर्थन कई गुना बढ़ने की उम्मीद है, क्योंकि यह टीम सेमीफाइनल खेल रही है। ऐसे में कोपेल ने टीम से नए सिरे से शुरुआत की अपील की है।

isl

मजेदार बात यह है कि केरल ने अपने घर में दिल्ली पर कभी जीत हासिल नहीं की है। 2014 के बाद से इन दो टीमों के बीच यहां कोच्चि में तीन मैच हुए हैं और केरल को एक मैच में हार मिली है जबकि दो मैच ड्रॉ रहे हैं। केरल ने भले ही घर में लगातार पांच मैच जीते हों लेकिन उसके लिए चिंता की बात यह है कि उसने गोल बहुत कम किए हैं। अब तक इस टीम ने कुल 13 गोल किए हैं। इतने कम गोल केरल के अलावा सिर्फ एफसी पुणे सिटी ने किए हैं।

संकेत हैं कि इस टीम का गोल करने का औसत बेहतर हुआ है। इस टीम ने शुरुआती आठ मैचों में सिर्फ चार गोल किए हैं। इसके बाद के छह मैचों में इसने हालांकि नौ गोल करते हुए अपना रिकार्ड बेहतर किया है। केरल के स्ट्राइकर सीके विनीत ने बेंगलुरू एफसी से वापसी के बाद पांच गोल किए हैं। दूसरी ओर, दिल्ली की टीम ने गियानलुका जाम्ब्रोता की देखरेख में इस सीजन में सबसे प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। यह टीम कोच्चि में केरल को कड़ी टक्कर दिखती दिख रही है।

कोच्चि में केरल से भिड़ने के बाद दिल्ली की टीम सेमीफाइनल के दूसरे चरण में अपने घर में खेलेगी। इस मैच में दिल्ली की टीम को अपने घरेलू समर्थकों से जोरदार समर्थन की उम्मीद है। जाम्ब्रोता इसे टीम के लिए बेहतर मानते हैं। बहरहाल, दोनों टीमों की खबर यह है कि उसके सभी खिलाड़ी फिट हैं और एक कड़े मुकाबले के लिए पूरी तरह तैयार हैं।