अजीत डोभाल ने नेपाली प्रधानमंत्री से नागरिक की मौत पर की बातचीत

नई दिल्ली। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने शुक्रवार को नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहाल ‘प्रचंड’ से फोन पर बातचीत कर सशस्त्र सीमा बल के जवान की फायरिंग में मारे गए नेपाली नागरिक की मौत पर दुख जताया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रतिनिधि के तौर पर किए गए फोन में डोभाल ने प्रचंड से कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

नेपाली प्रधानमंत्री के सचिवालय की ओर से जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक डोभाल ने फोन पर बातचीत में प्रधानमंत्री की ओर से शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। कंचनपुर हादसे को बेहद गंभीर बताते हुए नेपाली प्रधानमंत्री ने जांच में भारत को हर प्रकार की सहायता देने का वादा किया। उन्होंने आशा जताई की दोषियों को सजा मिलेगी।

इससे पहले भारतीय दूतावास से विनय कुमार ने नेपाली विदेश सचिव शंकर दास बैरागी से मुलाकात कर दुख जताया था। मामले में भारत सरकार ने नेपाल से पोस्टमार्टम रिपोर्ट और फोरेंसिक जाच रिपोर्ट की मांग की है।

गुरुवार को सशस्त्र सीमा बल के जवान की भारत-नेपाल सीमा पर की गई फायरिंग में गौतम नामक व्यक्ति की मौत हो गई थी। मौत के बाद नेपाल में बड़े स्तर पर प्रदर्शन हुए। वहीं नेपाल सरकार ने मृतक को शहीद का दर्जा, परिवार वालों को 10 लाख की सहायता और उसके बच्चों का शिक्षा खर्च वहन करने का फैसला किया है।