न्यूजीलैंड के खिलाफ हाथ आज़माएगा भारत, अश्विन पर टिकी होंगी सबकी नज़र

लंदन। भारत जब कल चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले जब अपनी पहली कोशिश के साथ न्यूजीलैंड का सामना करेगा तो सभी की नजरें इस मैच के साथ-साथ शीर्ष ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी पर टिकी होंगी। इंडियन प्रीमियर लीग में छह हफ्ते खेलने के बाद दो अभ्यास मैचों से टीम इंडिया को 50 ओवर के प्रारूप से सामंजस्य बैठाने में मदद मिलेगी और टूर्नामेंट से पहले टीम स्थायी संयोजन तैयार करना चाहेगी। इस मैच को कोई आधिकारिक दरेजा हासिल नहीं है इसलिए इस मैच में 15 खिलाड़ियों को खेलने का मौका मिलेगा। इस दौरान सभी की नज़रे अश्विन पर टिकी होंगी जो दो महिने के बाद वापसी कर रहे हैं। क्योंकि बीसीसीआई चाहता था कि घरेलू सत्र में सभी 13 टेस्ट खेलने के बाद थकान से उबरने के लिए वह आईपीएल में नहीं खेले।

बता दें कि अभ्यास मैच अश्विन को मैच अभ्यास का पर्याप्त मौका देगा क्योंकि अगर टीम प्रबंधन अंतिम एकादश में सिर्फ एक विशेषज्ञ स्पिनर के साथ उतरने का फैसला करता है तो उन्हें अंतिम एकादश में रविंद्र जडेजा से चुनौती मिल सकती है। अश्विन को इस मैच के जरिये ओवल की सपाट पिच पर केन विलियमसन, मार्टिन गुप्टिल और टाम लैथम जैसे खिलाड़ियों के खिलाफ अपने कौशल को परखने का मौका मिलेगा।

साथ ही उम्मीद ये भी लगाई जा रही है कि अश्विन इन अभ्यास मैचों में इन नये वैरिएशन को आजमाएंगे। शमी को भी इस मैच से अभ्यास का पर्याप्त मौका मिलेगा। यह तेज गेंदबाज सिडनी में 2015 में विश्व कप सेमीफाइनल के बाद से भारत के लिए 50 ओवर का क्रिकेट नहीं खेला है। शमी अगर फिट होते हैं तो भारत के लिए अहम साबित हो सकते हैं क्योंकि वह तेज गति से गेंदबाजी करने के अलावा गेंद को दोनों ओर स्विंग कराने तथा यार्कर करने में सक्षम हैं। भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह के अलावा हार्दिक पंड्या का पाकिस्तान के खिलाफ भारत के पहले मैच में खेलना लगभग तय माना जा रहा है और ऐसे में शमी अपना दावा मजबूत करना चाहेंगे। आईपीएल में रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियन्स के लिए पारी की शुरूआत नहीं की थी लेकिन एक बार फिर वह पारी की शुरूआत करते दिखेंगे।

वहीं लोकेश राहुल की कंधे की सर्जरी के कारण शिखर धवन को मौका मिला है जिन्हें 2013 टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज चुना गया था और एक बार फिर वह सीमित ओवरों की टीम में अपनी जगह पक्की करना चाहेंगे। न्यूजीलैंड के पास मिशेल मैकलेनाघन, टिम साउथी और ट्रेंट बोल्ट के रूप में प्रभावी तेज गेंदबाजी तिकड़ी है और कप्तान विराट कोहली इनके खिलाफ बल्लेबाजी से लय में आने की कोशिश करेंगे। मध्यक्रम में महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव भी चार जून को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच से पूर्व आत्मविश्वास हासिल करने की कोशिश करेंगे।

ये होंगी टीमें

भारत: विराट कोहली, कप्तान: शिखर धवन, रोहित शर्मा, महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह, केदार जाधव, अजिंक्य रहाणे, हार्दिक पंड्या, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, दिनेश कार्तिक और जसप्रीत बुमराह।

न्यूजीलैंड: केन विलियमसन, कप्तान: टाम लैथम, मार्टिन गुप्टिल, रोस टेलर, ल्यूक रोंची, नील ब्रूम, जिमी नीशाम, कोलिन डि ग्रैंडहोम, कोरी एंडरसन, मिशेल सेंटनर, जीतन पटेल, एडम मिल्ने, मिशेल मैकलेनाघन, टिम साउथी और ट्रेंट बोल्ट।