अब भारत भी बनाएगा अपने सुपर कंप्यूटर

नई दिल्ली। मोदी सरकार के मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत अब सुपर कंप्यूटर का निर्माण भारत में किया जाएगा 45 सौ करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट में त्रिस्तरीय कार्यक्रम के तहत तकनीक पर काम होगा नेशनल सुपर कंप्यूटर मिशन के तहत पहले दो चरणों में इनकी डिजाइन सब सिस्टम के निर्माण का काम किया जाएगा कैबिनेट ने पिछले साल मार्च में इसे मंजूरी दी थी।

super computer

सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग पुणे पूरा करेगा मिशन के तहत पचास सुपर कंप्यूटर की परिकल्पना तैयार की गई है इन्हें वैज्ञानिक शोध के लिए इस्तेमाल किया जाएगा विज्ञान व तकनीकी मंत्रालय के वरिष्ठ वैज्ञानिक मिलिंद कुलकर्णी का कहना है कि पहले चरण में छह सुपर कंप्यूटर बनाने की योजना है पहले चरण में तीन सुपर कंप्यूटर विदेश से मंगवाए जाएंगे बाकी के तीन का साजोसमान विदेश में बनेगा अलबत्ता इसे असेंबल भारत में किया जाएगा इन्हें बनारस हिन्दू विश्वविघालय कानपुर हैदराबाद व खड़गपुर की आईआईटी के साथ पुणे व बेंगलुर के संस्थानों को उपलब्ध कराया जाएगा।

मंत्रालय के सचिव आशुतोष शर्मा का कहना है कि इस साल के अंत तक यह काम पूरा करने की योजना है उनके मुताबिक तीसरे परम का निर्माण किया गया था लेकिन दस साल बाद यह जब खत्म हउआ तो उपलब्धि के नाम पर ज्यादा कुछ हासिल नहीं हो सका।