चैंपियन ट्रॉफी में एक दूसरे को हराने के लिए तैयार भारत-पाक, रोमांचक होगा मुकाबला

लंदन। इंग्लैंड में चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत और पाकिस्तान के बीच 18 तारीख को रोमंचक मुकाबला खेला जाएगा। जिसमे दोनों ही टीमों ने अच्छा प्रर्दशन किया है। हालांकि दोनों टींमो को फाइनल में पहुचने से पहले एक-एक मैच में हार का सामना भी करना पड़ा। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली टीम के शानदार प्रर्दशन से काफी खुश हैं वहीं बांग्लादेश को सेमीफाइनल में हराकर चैंपियन ट्राफी के फाइनल में टींम इंडिया ने दूसरी बार जगह बनाई है। वहीं विराट ने पाकिस्तानी टींम की तारीफ करते हुए कहा कि पाकिस्तान ने शानदार वापसी करते हुए फाइनल में जगह बनाई है। किसी भी टींम को फाइनल में जगह बनाने के लिए कुछ अच्छा खेलना होता है जो की पाकिस्तानी टींम ने किया है।

साथ ही विराट कोहली का कहना है कि भारतीय टीम में कोई भी बदलाव नहीं किया जायेगा, विराट ने कहा कि चैंपियन ट्रॉफी जीतने के लिए हमें पाकिस्तानी टीम की कमजोर कड़ी और मजबूत पक्ष को ध्यान में रखने की जरूरत है इसके अलावा भारतीय टींम को कुछ अलग करने कि जरुरत नही है। टींम जिस तरह अब तक अपना प्रर्दशन देती आई है आगे भी उसी प्रदर्शन के साथ हम पाकिस्तान को हराकर जीत हासिल करेंगे। विराट कोहली ने आगे कहा कि हम मैच को जितने कि पूरी कोशिश करेंगे इसके अलावा कोई भी भविष्यवाणी करना गलत होगा। क्योंकि क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है। जिसमे कुछ भी हो सकता है जो भी टींम अच्छा खेलेगी वो फाइनल जीतेगी।

पाकिस्तान पर होगा दबाव

वहीं जब भी भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला हुआ है तभी पाक को हार का सामना करना पड़ा है। भारतीय टींम का एक रिकार्ड यह भी है कि वो फाइनल में कभी भी पाकिस्तान से नही हारा है। चैंपियन ट्राफी मे भी पाकिस्तान को ही भारत से हार का सामना करना पड़ा था।

गेंदबाजों के उपर होगा दबाव

पाकिस्तानी टीम के गेंदबाज हसन अली ने अपनी शानदार गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया है। साथ ही पुरे टूर्नामेंट मे अब तक 10 विकेट ले चुके है जो कि पाकिस्तान के तरफ सबसे ज्यादा विकेट है। रविवार के मैच में अगर पाकिस्तान अपने अच्छे प्रदर्शन से पीच पर जमने में कामयाब हो गए तो ये भारतीय टीम के लिए काफी घातक साबित हो सकता है। इसके साथ ही जुनैद पाकिस्तानी टीम के दूसरे ऐसे खिलाड़ी हैं जो 3 मैचों में 7 विकेट ले चुके हैं। जुनैद पाक के ऐसे खिलाड़ी है अगर फार्म मे आ जाए तो कोई भी बल्लेबाज इनकी गेंदबाजी के सामने नहीं टीक पाता।

वहीं अगर बात भारतीय टीम की करें तो वो भी किसी से कम नहीं है। भारतीय टीम में भुवनेश्वर कुमार ने अबतक उम्दा प्रर्दशन करते हुए चार मैचो में 6 विकेट ले चुके है, और साथ ही जसप्रीत बुमराह ने आखिरी ओवरों मे बहुत ही किफायती गेंदबाजी की है दोनो टीमों की अगर बल्लेबाजी की बात की जाय तो उसमें भारत की बल्लेबाजी पाकिस्तान से कही बेहतर है। रोहीत और शिखर की जोड़ी हर मैच में शानदार प्रर्दशन करती आ रही है। उसके बाद जो कसर बाकी रह जाती हैा वो कोहली और महेंद्र सिंह धोनी पूरा कर देते है, जिससे कोई भी टींम उबर नही पाती, अगर इनमें से किसी का भी बल्ला चला तो किसी भी टीम के लिए सम्भल पाना मुश्किल होता है।