कैप्टन सरकार पर बढ़ा पंजाब के किसानों की कर्ज माफी का दबाव

चंडीगढ़। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा किसानों के कर्ज माफी के फैसले के बाद अब पंजाब में कैप्टन सरकार पर भी कर्ज माफी का दबाव बढ़ गया है। विपक्षी पार्टियों ने भी अब सरकार को घेरने शुरु कर दिया है। शिरोमणि अकाली दल ने भी सरकार से मांग की है कि यूपी में योगी सरकार की तर्ज पर पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह भी किसानों के हित में ऐसे फैसले लें।

गौरतलब है कि यूपी में किसानों के कर्ज माफी के फैसला लेने के बाद महाराष्ट्र में फडणवीस सरकार ने भी किसानों के कर्ज माफी को लेकर विचार करना शुरु कर दिया है। शिरोमणि दल के पार्टी सेक्रेटरी डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने कैप्टन से पूछा कि वह कब किसानों का कर्ज माफ करेंगे?

आपको बता दें कि पंजाब में सत्तारुढ़ सरकार भी किसानों की कर्ज माफी को लेकर चिंतित है, इस बारे में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि राज्य के किसानों की कर्ज माफी हमारे सरकार की प्रतिबद्धता है, हमने अपनी पहली ही कैबिनेट की मीटिंग में किसानों के कर्ज को माफ करने के लिए कोर ग्रुप बना दिया है ताकि पता लगाया जा सके कि किसानों पर कितना कर्ज है। कोर ग्रुप यह भी बताएगा कि इसके लिए फंड कहां से जुटाया जाएगा।

गौरतलब है कि मंगलवार को यूपी की योगी सरकार ने अपने वादे के अनुसार पहली बैठक में किसानों के कर्ज माफी पर फैसला लेते हुए लघु और सीमांत किसानों का 1 लाख तक का कर्ज माफ कर दिया है, सरकार के इस फैसले के बाद से देश के अन्य राज्यों के सरकारों पर भी कर्ज माफी का दबाब बढ़ गया है।