मेरठ: सर्राफा कारोबारी के दुकान पर आयकर विभाग का छापा

मेरठ। नोटबंदी के बाद आयकर विभाग ने कार्यवाही के क्रम को आगे बढ़ाते हुए मंगलवार को सदर सर्राफा बाजार स्थित एक बड़े सर्राफा कारोबारी के संस्थान पर छापा मारा। छापेमारी का विरोध करते हुए व्यापारियों ने बाजार बंद करते हुए जमकर हंगामा किया। उन्होंने आयकर विभाग पर व्यापारियों के उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए कार्यवाही को रोके जाने की मांग की। दोपहर बाद तक आयकर विभाग की टीम कारोबारी के संस्थान के दस्तावेज खंगालने में जुटी थी।

दोपहर को आयकर विभाग की टीम ने सदर सर्राफा बाजार स्थित खेमचंद पवन कुमार जैन के मालिक श्यामा प्रसाद के संस्थान पर छापेमारी की। टीम को देखते ही संस्थान के कर्मचारियों और संचालकों में हड़कंप मच गया। आयकर की टीम ने संस्थान का द्वार भीतर से बंद करते हुए दस्तावेजों को खंगलना शुरू कर दिया। आयकर के छापे की जानकारी मिलते ही क्षेत्र के सर्राफा व्यापारियों ने टीम का विरोध करते हुए बाजार बंद कर दिया और दर्जनों व्यापारी श्यामा प्रसाद के संस्थान के बाहर एकत्र हो गए। उन्होंने संस्थान के बाहर नारेबाजी करते हुए टीम को वापस जाने को कहा। लेकिन टीम में शामिल अधिकारी अपने काम में जुटे रहे। हालांकि यह जानकारी नहीं मिली कि टीम मेरठ से आई थी या फिर दिल्ली से छापेमारी की कार्यवाही की गई है। दोपहर बाद तक व्यापारियों का हंगामा जारी था और टीम अपने काम में जुटी थी। सू़त्रों के अनुसार, छापे को नोटबंदी के दौरान बेचे गए सोने से जुड़ा बताया जा रहा है।

  -राहुल गुप्ता