पंजाब में राष्ट्रीय राजमार्ग-5 को 6 लेन बनाने को मंजूरी

नई दिल्ली। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने एनएचडीपी चरण-5 के तहत पंजाब राज्य में राष्ट्रीय राजमार्ग खंड एनएच संख्या-95 (नया एनएच-5) के विकास के लिए लैटर ऑफ अवार्ड (एलओए) जारी किया है। यहा जारी एक आधिकारिक बयान के अनुसार, इस राष्ट्रीय राजमार्ग के 76 किलोमीटर लंबे खरड़-लुधियाना खंड के विकास में 54 किलोमीटर लंबी छह लेन की सड़क तथा 22 किलोमीटर लंबी चार लेन का निर्माण कार्य शामिल है। राष्ट्रीय राजमार्ग-5 परियोजना खरड़ शहर से शुरू होकर मोरिंडा बाइपास, खम्मानो शहर, प्रस्तावित समराला बाइपास से गुजरती हुई लुधियाना में समाप्त होगी।

High way

बयान के अनुसार, इस परियोजना से संपर्क में सुधार होने के साथ ही औद्योगिकी केंद्र लुधियाना से चंडीगढ़ और उत्तरी भारत के अन्य भागों में यातायात की गति तेज करने में सुधार आएगा। यह परियोजना चंडीगढ़ की राष्ट्रीय राजमार्ग-1 के साथ ही दक्षिण-पश्चिम पंजाब से चंडीगढ़ शहर को यातायात का वैकल्पिक जुड़ाव भी उपलब्ध कराएगी।

इस परियोजना में दो प्रमुख पुलों, छह छोटे पुलों, आठ फ्लाईओवर, वाहनों के लिए छह अंडरपास, पैदल चलने वालों के लिए 10 अंडरपास, 126 पुलियों, 46 किमी लंबी सर्विस लेन, नौ प्रमुख जंक्शनों, 253 माइनर जंक्शनों और समराला में आठ किमी लंबे बाईपास का निर्माण शामिल है।

बयान में कहा गया है कि परियोजना की कुल पूंजी लागत 2,070 करोड़ रुपये होगी और इसका निर्माण मैसर्स अशोका कन्सेशंस लिमिटेड करेगी।