थाने में बजी शहनाई, सात जन्मों के बंधन में बंधा प्रेमी जोड़ा

मेरठ। उत्तर प्रदेश पुलिस के कुछ दागदार वर्दीधारी भले ही अपने कारनामों से खाकी और महकमें को शर्मसार कर रहे हों लेकिन कुछ नेक दिल पुलिसवाले अपनी कुछ खास वजह से हमेशा चर्चा में रहकर वाहवाही बटोरते रहते हैं। ताजा मामला मेरठ के महिला थाने का है। दरअसल महिला थाने की प्रभारी कंचन चौधरी ने अपने प्यार को पाने के लिए बेताब एक प्रेमी जोड़े की थाने में शादी करवा दी। इस शादी में पुलिसकर्मी बाराती बनें और दोनों प्रेमी जोड़ों ने एक दूसरे के गले में जयमाला डालकर और मिठाई खिलाकर एक दूसरे के साथ जीवन भर साथ रहने का वचन लिया।

महिला थाना प्रभारी कंचन चौधरी ने बताया कि शताब्दी नगर के रिठानी की रहने वाली रानी पुत्री सुनील जाटव है। जबकि उसका प्रेमी बिजौली खरखौंदा का रहने वाला सनी पुत्र राजेश पंडित है। दोनों की जाति अलग-अलग थी इसके चलते लड़के के घरवाले तैयार नहीं थे। उन्होंने बताया कि दोनों के बीच करीब दो साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था।

लड़के के घरवालों ने उसकी शादी भी तय कर दी थी उसकी आज ही शादी थी। यह देख लड़की काफी बेचैन थी और वह एसएसपी के पास पहुंची और पूरी बात कप्तान को बताई। एसएसपी ने महिला थाना प्रभारी को शादी रोकने के निर्देश दिए। अपने अधिकारी का आदेश पाकर थाना प्रभारी अपनी टीम के साथ लड़के के घर पहुंची और उसकी मां को हिरासत में लेकर थाने ले आईं। इसके बाद थाना प्रभारी ने दोनों पक्ष के लोगों को बुलाया और थाने में ही शादी करवा दी। प्रेम विवाह के बाद दोनों काफी खुश हैं दोनों को पुलिस के साथ ही उनके घरवालों ने भी आशीर्वाद दिया।

थाना प्रभारी ने बताया कि हालांकि आज ही लड़के की शादी थी और जिसके साथ उसकी शादी हो रही थी उस लड़की के घर भी तैयारियां पूरी हो चुकीं थीं। इसलिए लड़के के छोटे भाई की शादी उस लड़की से करवा दी गई। अब एक अरेंज मैरिज और एक लव मैरिज के साथ उस घर में एक की बजाय दो बहुएं पहुंच रही हैं। बता दें कि प्रेमी जोड़ों के अंदर पुलिस का खौफ काफी रहता है। लेकिन यहां इस थाने में प्रेमी जोड़े डरे नहीं बल्कि खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे थे। थाने के अंदर दो प्रेमी जोड़ों ने विवाह रचाया और शादी के गवाह परिवार के लोगों के साथ महिला थानेदार सहित सभी पुलिसकर्मी बने और सभी ने नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद भी दिया।

 शानू भारती, संवाददाता