‘आप’ की हार से अभी भी परेशान है फूल्का, कहा सिद्धू होते तो नतीजे अलग होते

मोहाली। पंजाब विधानसभा चुनाव हुए एक महीने से ज्यादा का समय हो चुका है लेकिन आम आदमी पार्टी में हार की टीस एक बार फिर से सुनाई दी। पंजाब में आम के वरिष्ठ नेता एचएस फूल्का ने कहा कि अगर नवजोत सिंह सिद्धू आम में शामिल हो जाते तो शायदा आप की स्थिति मौजूदा समय से अलग होती।

इसके साथ ही फूल्का ने कहा कि चुनावों से पहले आप का विस्तार होना चाहिए था। अगर पार्टी में सिद्धू सहित मनप्रीत बादल, जगमीत बराड़ और परगट सिंह शामिल होते हुए होते तो चुनाव के परिणाम आप के पक्ष में होते। जब उनके भगवंत मान के पार्टी छोड़ेने के कयासों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा मान इस्तीफा दे रहे हैं या फिर नहीं इस पर मैं कुछ नहीं कह सकता। मान की पार्टी के बड़े नेताओं से सीधी बात होती है। पीसीए के सदस्य और कैंपेन कमेटी के चेयरमैन है उनके बारे में और क्या कह सकता हूं।

बता दें कि पंजाब में आप का प्रदर्शन काफी खराब रहा है। पंजाब में कांग्रेस की जीत ने जहां पार्टी के भविष्य पर उठ रहे सवालों पर कुछ समय के लिए विराम लगा दिया तो, वहीं आम आदमी पार्टी को असल राजनीति की सीख दी है। अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में पार्टी ने हर कदम बड़ा सोच समझ कर रखा, चुनावी रणनीति बनाई, वहीं केजरीवाल का पूरा उद्देश्य दूसरों को गिरा कर स्वयं को उठाना रहा, जिसे समय रहते पंजाब की जनता ने भली भांति समझ लिया। परिणामस्वरुप आप को करारी हार का सामना करना पड़ा।

 (शिप्रा सक्सेना)