नेशनल हैण्डलूम एक्सपो में रविवार को देखने को मिली भारी भीड़

देहरादून। आयोजक उत्तराखण्ड हथकरघा और हस्तशिल्प विकास परिषद उद्योग निदेशालय, देहरादून और प्रायोजक विकास आयुक्त (हथकरघा) भारत सरकार द्वारा नेशनल हैण्डलूम एक्सपो में रविवार को काफी भीड़ देखने को मिली। अवकाश होने के कारण देहरादून वासियों ने प्रदर्शनी में आकर काफी खरीददारी की। यह प्रदर्शनी 13 जनवरी तक चलेगी।

dehradun
dehradun

बता दें कि नेशनल हैण्डलूम एक्सपो में 150 स्टॉल लगाये गये हैं जिसमें 110 स्टॉल हैण्डलूम के लगे हैं और 45 स्टॉल उत्तराखण्ड के भी लगे हैं। भारत के लगभग 14 राज्यों के हथकरघा बुनकरों के स्टॉल भी लगे हैं, जिसमें कर्नाटक, उड़ीसा, गुजरात, जयपुर, उत्तराखण्ड सहित कई स्टॉल लगाये गये हैं। यहां पर त्रिशूल, नंदा देवी एवं चैखम्बा नाम से तीन स्टॉल लगाये गये हैं जिसमें रविवार को काफी भीड़ देखने को मिली। लोगों की खरीददारी के साथ-साथ बच्चों ने भी खाने-पीने व झूलों का आनंद लिया। महिलाओं ने पहाड़ी दालें भी खरीदी। प्रदर्शनी में प्रसिद्ध आशा आंटी का भी स्टॉल लगा है जिसमें लोगों ने जमकर पापड़, नमकीन, अचार आदि का आनंद लिया।

वहीं प्रायोजक भारत सरकार द्वारा पवेलियन थीम में भारत के हथकरघा बुनकरों द्वारा बनाये गये उत्पाद रखे गये हैं। इस प्रदर्शनी में भी लोगों का काफी रूझान रहा। यहां पर हथकरघा बुनकरों द्वारा तैयार किये गये उत्पाद रखें गये हैं जिन्हें लोगों ने काफी उत्सुकता के साथ खरीदा और वहां रखे हथकरघा चरखा के बारे में भी जाना की किस तरह से ये उत्पाद तैयार किये जाते हैं। रविवार को लोगों की भीड़ को देखते हुए मेले अधिकारियों ने रात को 9 बजे तक प्रदर्शनी को खुले रखने का निर्णय लिया।