चार बदमाशों को लूट के समान के साथ धरा : हरदोई

उत्तर प्रदेश। हरदोई में शाहजहांपुर के सर्राफा व्यापारी को गोली मारकर लूट की वारदात को अंजाम देने के दो महिने बाद माल का बटवारा करने पहुंचे चार शातिर बदमाशों को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर दबोच लिया।पकड़े गए बदमाशों में एक इनामिया भी है।इनके पास से चार तमंचे तीन बाइक व सोने के जेवर बरामद किए है।

रविवार को शहर कोतवाली हरदोई में एसपी विपिन कुमार मिश्रा ने बताया की 12 अप्रैल को शाजहांपुर के मोहल्ला धुरन तलैया निकट मामा हलवाई छोटा चौक निवासी सर्राफा व्यापारी प्रमोद कुमार वर्मा पुत्र जगदीश प्रसाद को बदमाशों ने उस वक्त गोली मारकर जेवर से भरा बैग लूट लिया था जब वह त्रिवेणी एक्सप्रेस से हरदोई आये थे। मामला घायल व्यापारी के भाई प्रदीप ने शहर कोतवाली में अज्ञात लुटेरों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराया था।पुलिस मामले की पड़ताल करते हुए लुटेरों की तलाश कर रही थी।

एसपी के मुताबिक एएसपी पूर्वी व सीओ सिटी के निकट पर्यवेक्षण में तलाश में लगी पुलिस व स्वाट टीम को 24 जून को सफलता मिली और मुखबिर की जानकारी पर शहर क्षेत्र की शुगर मिल के खंडहरों में छापा डाला जहां व्यापारी से लूट गए माल का बटवारा करते चार बदमाशों को पकड़ा गया जबकि दो बदमाश भाग निकले।

पकड़े गए बदमाशों के पास से 100 ग्राम के सोने के जेवर चार तमंचे आठ कारतूस तीन मोटरसाइकिल बरामद की गई। पकड़ा गया एक बदमाश ममनून उर्फ गोलई पुत्र अयूब निवासी जमूरा मझिला के ऊपर 25सौ का इनाम था। इसके साथ पकड़े गए राजू पुत्र मुलायम सहजहनपुर पाली रमेश चंद्र उर्फ रिंकू पुत्र रामनाथ गनेशपुर हैदराबाद लखीमपुर व जियाउद्दीन पुत्र लड्डन इंगवा शाहाबाद भी शातिर व पेशेवर अपराधी है। दो महीने बाद घटनास्थल के आसपास लूट के माल के बंटवारे किये जाने की पुलिस की कहानी किसी के गले नहीं उतर रही है।