हिन्दुस्थान लीवर की तीसरी तिमाही में 1038 करोड़ का मुनाफा

नई दिल्ली। हिन्दुस्थान लीवर लिमिटेड (एचयूएल) ने वित्तीय वर्ष 2016-17 की तीसरी तिमाही के नतीजों का ऐलान कर दिया है। जिसमें कंपनी ने मुनाफे में सात फीसदी की बढ़ोतरी का एलान किया है। कंपनी का मुनाफा बढ़कर 1038 करोड़ रुपये हो गया है। वैसे कंपनी के कुल कारोबार पर नोटबंदी का असर देखने को मिला। कंपनी के कारोबार में 4 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। कंपनी की आय 8318 करोड़ रुपये रही, जबकि पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान इसी तिमाही में कंपनी की आय 8384.7 करोड़ रुपये थी। इस तरह कंपनी की आय में एक फीसदी से कम की गिरावट देखने को मिली।

कंपनी ने बताया कि कंपनी ने सर्फ उत्पाद में दो अंकों की बढ़त हासिल की। इसी तरह होम लिक्विड्स में भी इस तिमाही में अच्छा प्रदर्शन रहा। पर्सनल केेयर उत्पादों में बढ़त तो रही, लेकिन महंगाई के चलते उस पर असर पड़ा। बेबी डव उत्पाद को उपभोक्ताओं का अच्छा रिस्पांस मिला। इसी तरह इस तिमाही में कंपनी ने ‘लीवर आयुष’ नाम से आयुर्वेद पर आधारित पर्सनल केयर उत्पादों की रेंज लॉन्च की है। चाय कारोबार में कंपनी ने दो अंकों की बढ़त दर्ज की, वहीं आइस्क्रीम और फ्रोजन्ड मिष्ठान के कारोबार में तेजी देखी गई। कंपनी खाद्य उत्पादों के बाजार को विकसित करने की लगातार कोशिश कर रही है। इसी क्रम में किसान जैम की नई रेंज बाजार में उतारी गई।

एचयूएल भारतीय बाजार में पिछले 80 साल से ज्यादा वक्त से करीब 20 श्रेणियों में अपने 35 उत्पाद बेच रही है| इसमें लक्स, लाइफबॉय, सर्फ एक्सल, रिन, व्हील, फेयर एंड लवली, पॉन्ड्स, वैसेलीन, लक्मे, डव, क्लिनिक प्लस, सनसिल्क, पेप्सोडेंट, क्लोज-अप, ब्रू, नोर, किसान, क्वालिटी व़ॉल्स शामिल हैं। भारतीय बाजार में एचयूएल का सालाना कारोबार 31 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का है।