बिगड़ती ही जा रही है राजस्थान में कानून व्यवस्था !

राजस्थान में इन दिनों क्राइम को ग्राफ काफी बढ़ा हुआ है। आए दिन राजस्थान से कभी हत्या तो कभी रेप जैसी वारदातें सामने आ रही हैं। जिससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि राजस्थान में कानून व्यवस्था काफी सुस्त हो गई है। लेकिन राजस्थान हाईकोर्ट की खंडपीठ ने कानून प्रशासन को लेकर सख्त कार्रवाई की है।

crime

हाईकोर्ट के वरिष्ठ जज गोविंद माथुर और जज विनीत माथुर ने होम सेक्रेटरी दीपक उप्रेती को तलब किया था लेकिन कॉन्फ्रेंसिंग का हवाला देते हुए वह कोर्ट से गैर हाजिर रहे हैं। जिसको लेकर कोर्ट का मिजाज बदल गया, हाईकोर्ट द्वारा सरकार से पूछा गया है कि जोधपुर राजस्थान का ही हिस्सा है या नहीं। होम सेक्रेटरी दीपक उप्रेती के गैर हाजिर होने के कारण कोर्ट द्वारा यह भी कहा गया है कि अगर जल्द ही अलग वह पेश नहीं हुए तो उनकी गिरफ्तारी के आदेश भी दिए जा सकते हैं। देखने वाली बात यह है कि आए दिन राजस्थान से कभी हत्या तो कभी रेप जैसी वारदात सामने आ रही है। पहले जोधपुर में व्यापारी की सरेआम हत्या करना और फिर बाड़मेर में स्कूल के अंदर छात्रा से दुष्कर्म जैसी घिनौनी वारदात को अंजाम देना। इन सभी घटनाओं से राजस्थान कानून व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं।