एक तरफ खुशी तो दूसरी तरफ कहर बनकर बरसी बारिश

लोगों को इन दिनों भारी गर्मी का सामना करना पड़ रहा है। दिन प्रतिदिन बढ़ती धूप के कारण लोगों का घर से बाहन निकलना भी मुश्किल होता जा रहा है। दिन भर तपती धूप का सामना करने के बाद लोग रात का इंतजार गर्मी कम होने के लिए करते हैं लेकिन इन दिनों रात में भी लोगों को गर्मी की मार झेलनी पड़ रही है, ऐसे में बुधवार को आखिर कार लोगों को गर्मी से राहत मिल ही गई। दिल्ली समेत कई राज्यों के लोगों को बस मानसून आने का इंतजार था। ऐसे में अब लोगों का इंतजार खत्म होता हुआ दिखाई दे रहा है। दिल्ली एनसीआर समेत पंजाब, हरियाणा राजस्थान सहित अन्य राज्यों के लोगों के चेहरे पर आसमान से गिरी बूंदे मुस्कान लेकर आ गई। झमाझम पड़ी बारिश के कारण लोग अपने अपने घर से निकल कर मौसम का आनंद लेते हुए दिखाई दे रहे हैं तो वही अब लोग अपने घरों से बाहर निकल कर बारिश का मजा ले रही है।

हिमाचल प्रदेश में तो बादल ही फट गए। यहां बादल फटने से भारी तबाही आ गई। मंगलवार को मनाली से 165 किलोमीटर दूर पटसेऊ नाले में बादल फटने से मनाली-लेह मार्ग पर लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ गया। यहां फंसे करीब 450 लोगों को इस परेशानी से करीब 18 घंटे के लंबे इंतजार के बाद राहत मिली। जानकारी के अनुसार बादल फटने से लोगों को खाने पीने के लाले पड़ गए और करीब 18 घंटे भूखें प्यासे रहकर लोगों को वक्त काटना पड़ा जिसके बाद लोगों को राहत मिली। घटनास्थल पर मोबाइल कनेक्टिविटी भी नहीं थी जिस कारण लोगों की परेशानी घटने के बजाए और भी ज्यााद बढ़ गई।

मौसम विभाग की माने तो अगले 2 दिनों तक मौसम का मिजाज लोगों के चेहरे पर मुस्कान लाने वाला है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 48 घंटों के अनंद मानसून कई राज्यों में झमझमाती हुई बारिश के साथ आने वाला है। वही एक तरफ जहां लोगों को बारिश के कारण राहत मिल रही है तो दूसरी तरफ कई इलाकों में बारिश आफत का सबब बनी हुई है। बात अगर मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश कि की जाए तो यहां बारिश और बिजली इस कदर गिरी की इसने करीब 22 लोगों की जिंदगी छीन ली। बारिश के कारण श्रद्धालुओं को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उत्तराखंड में बारिश के कारण चारधाम यात्रा को बाधित करना पड़ गया।