चीन में समलैंगिकता पर गिरी गाज

बीजिंग। चीन में समलैंगिकता पर गाज गिरनी शुरू हो गई है। इंटरनेट पर समलैंगिक संबंधों को दिखाने वाले वीडियो ब्लॉक किए जा रहे हैं और इसको लेकर देश की माइक्रोब्लॉगिंग साइट वीबो पर जमकर बहस छिड़ गई है। यह जानकारी सोमवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली। विदित हो कि कई वीबो यूजर सरकार के इस फ़ैसले का विरोध कर रहे हैं। कुछ नाराज़ हैं तो कुछ हताश लग रहे हैं। बीबीसी के अनुसार, एक यूजर ने लिखा, “सभी लोग एक समान हैं। सरकार आख़िर किस अधिकार से समलैंगिकों के साथ भेदभावपूर्ण रवैया अपना रही है। एक अन्य ने लिखा है, “क्या समलैंगिक इंसान नहीं हैं? सरकार उन्हें अछूत साबित क्यों करना चाह रही है।

Havoc, homosexuality, China, Beijing, Microblogging site Weibo
homosexuality in china

बता दें कि यह पूरी बहस उस फ़ैसले के बाद छिड़ी, जिसमें सरकार ने इंटरनेट से समलैंगिकता को बढ़ावा देने वाले वीडियो हटाने का निर्णय लिया था। इतना ही नहीं जुलाई महीने के शुरू में लागू किए गए नियम में समलैंगिक लोगों को ‘एबनॉर्मल’ बताया गया है। इस नियम के तहत तहत समलैंगिक सेक्स वीडियो के साथ-साथ उन वीडियो पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं जिसमें समलैंगिक जोड़ों को दिखाया गया है। ऐसे वीडियो पर नज़र रखने के लिए विशेष रूप से सेंसरशिप टीम का गठन किया गया है, जो वीडियो डिलीट करने का काम कर रही है।