हनीप्रीत को भगोड़ा अपराधी घोषित करेगी हरियाणा पुलिस

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरूमीत राम-रहीम बलात्कार के आरोप में जेल की सलाखों के पीछे हैं। इनकी कथित दत्तक पुथ्री हनीप्रीत इंसा और समुदाय के उनके खास विश्वास पात्र फरार। इन विश्वास पात्रों के जरिए ही बाबा ने जेल जाते समय पंचकुला समेत कई राज्यों में हिंसा कराई थी। अपनी ताकत और लोगों को अहसास सरकार और प्रशासन को कराने की हिमाकत दिखाई थी। लेकिन अब जैसे-जैसे इन पर शिकंजा कसता जा रहा है। एक एक कर इनके सहयोगी भूमिगत होते जा रहे हैं। बाबा के साथ पंचकुला से जेल तक आई उनकी कथित दत्तक पुत्री हनीप्रीत इंसा की तलाश को लेकर हरियाणा के पुलिस दिल्ली राजस्थान पंजाब के साथ उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में छापेमारी कर रही है।

Metro, runs,Lucknow,month, September,
honeypreet insan

अभी तक पुलिस के हाथ हनीप्रीत इंसा और अन्य डेरा के लोग नहीं लगे हैं। ऐसे में पुलिस अब इन सभी को भगोड़ा अपराधी घोषित करने की प्रक्रिया में है। पुलिस ने हनीप्रीत के अलावा आदित्य इंसां और पवन इंसां के खिलाफ भी अभियान छेड़ा है लेकिन अभी तक इन दोनों को भी गिरफ्तार नहीं कर सकी है। ऐसे में हनीप्रीत के साथ इनको भी भगोड़ा अपराधी घोषित करने का हरियाणा पुलिस ने मन बना लिया है। इस बारे में शनिवार को ही हरियाणा पुलिस के डीजीपी बीएस संधू ने कहा कि हम इन सभी लापता अपराधियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने जा रहे हैं।

हरियाणा पुलिस के डीजीपी के मुताबिक इन तीनों अपराधियों पर अब कानूनी शिकंजा कसा जायेगा। इसके तहत इनको भगोड़ा घोषित कर इनकी संपत्ति को कुर्क करने का फैसला लिया गया है। डीजीपी ने कहा कि इन सभी अपराधियों की निजी संपत्ति को कुर्क किया जायेगा। इन अपराधियों को चाहिए कि वो पुलिस के सामने आकर पेश हो और जांच एजेन्सियों के समक्ष अपनी बात को रखें। हनीप्रीत को लेकर हरियाणा पुलिस ने 25 अगस्त तक कोई मामला दर्ज नहीं किया था। लेकिन डेरा के एक पदाधिकारी की गिरफ्तारी और खुलासे के बाद हनीप्रीत की भूमिका और हिंसा को लेकर साजिश का खुलासा हुआ तो पुलिस ने हनीप्रीत की तलाश शुरू कर दी जिसके बाद एक और दो दूसरे नाम भी सामने आये।