कोयला और स्टील के कारण बढ़ा उद्योगों का उत्पादन

नई दिल्ली। भारत में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार लगातार काम कर रही है। हालही मे आई रिपोर्ट में इस बात का पता चला है कि भारत में कोयला और स्टील की बदौलत मार्च महीने में 8 प्रमुख उद्योगों के उत्पादन में 5 फीसदी का इजाफा हुआ है।

रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 3 महीने में ये सबसे ज्यादा इजाफा है। हालांकि, 8 ढांचागत उद्योगों (कोयला, क्रूड ऑयल, नैचुरल गैस, रिफाइनरी प्रोडक्ट्स, खाद, स्टील और इलैक्ट्रिसिटी के उत्पादन में वृद्धि पिछले साल मार्च (9.3 प्रतिशत) से कम रही। आंकड़ों के मुताबिक कोयला उत्पादन में 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, पिछले साल यह दर 2.5 फीसदी थी।

कहां हुई कितनी बढ़ोतरी

रिपोर्ट में इस बात का पता चला है कि मार्च महीने में बिजली उत्पादन में 5.9, क्रूड ऑयल 0.9, नैचुरल गैस उत्पादन में 8.3 फीसदी की बढ़ोतरी हो गई है। जबकि फरवरी और मार्च में कुल इंडस्ट्री प्रोडक्शन में तेजी दूसरी तरफ सीमैंट उत्पादन में 6.8 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है।

वहीं बात अगर खाद (0.8 प्रतिशत) और रिफाइनरी प्रोडक्ट्स (0.3 प्रतिशत) में भी कमी आई है। कुल इंडस्ट्री प्रोडक्शन, जिसमें 38 फीसदी योगदान प्रमुख उद्योग देते हैं, में फरवरी में 1 प्रतिशत और मार्च में 3.4 फीसदी का इजाफा हुआ है। इस रिपोर्ट के आने के बाद एक बार फिर से इस बात के निर्देश मिलने लगे हैं कि भारत में कोयला और स्टील भारतीय उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए काफी सक्षम है।