शादी के पहले ही लापता हुआ दूल्हा

बलिया। जनपद के गड़वार थाना क्षेत्र के बभनौली गांव की जहाँ बभनौली के रहने वाले 25 वर्षीय मृत्युंजय कुमार उपाध्याय जोधपुर में एयरफोर्स के इलेक्ट्रिकल कोर के पद पर तैनात थे। कुछ दिनों पहले परिवार वालो ने मृत्युंजय की शादी तय किया था। जो मऊ जनपद में होने वाली थी। मृत्युंजय उपाध्याय की तिलक समारोह 12 फरवरी को हैं और शादी 16 को होनी तय थी।

मृत्युंजय उपाध्याय के घर एक ख़ुशी का माहौल हैं। और शादी समारोह की एक तरफ तैयारियां भी चल रही हैं। घर पर एक ख़ुशी का माहौल सा बना हुआ हैं। घर पर रिस्तेदारो का आना लगा हुआ हैं। घर पर टेंट भी लग रहे हैं। शादी की जोरो पर तैयारी चल रही हैं। तिलक 12 फरवरी को हैं।लेकिन खुशी के पल को एक मिनट में ही गम में बदल दिया ।गम यह हैं कि मृत्युंजय उपाध्याय अपने शादी में छुट्टी लेकर अपने घर आ रहे थे। चार फरवरी को जोधपुर से चले थे। अपने शादी की तैयारी कर मरुधर एक्सप्रेस ट्रेन से अपने घर आ रहे थे। जोधपुर से लखनऊ तक होने वाली पत्नी से बाते और चेटिंग होती रही ।

हालांकि उनका लोकेशन मिलता रहा। लेकिन जब लखनऊ के बाद मृत्युंजय का लोकेशन मिलना बंद हो गया। तो उसने अपने ससुराल में फोनकर बताया कि मृत्युंजय का लोकेशन नही मिल रहा हैं । तब परिजनों ने मृत्युंजय की खोजबिन जारी कर दिया। क्योकि वाराणसी से मृत्युंजय की बलिया आने के लिये पवन एक्सप्रेस से टिकट था। वाराणसी में शीशी टीवी फुटेज से पता लगा की वाराणसी में एटीएम से पैसा भी मृत्युंजय ने निकाला था । लेकिन तब से उसका कहीं अता पता नही। तब से परिजनों ने काफी खोजबीन की। लेकिन परिजनों को अभी तक कोई सुराग नही मिला। जिससे घर में मातम पसरा हुआ हैं।

संजय कुमार तिवारी, संवाददाता