500वें टेस्ट मैच के लिए तैयार है ग्रीनपार्क?

कानपुर। न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम तीन टेस्ट मैचों और पांच अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों के लिए भारत दौरे पर आ चुकी है और टेस्ट श्रृंखला शुरू होने में अब सिर्फ पांच दिन ही बचे हैं। बावजूद इसके कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में निर्माण कार्य अभी चल ही रहा है। जर्जर हो चुकी बालकनी में हो चुके छेदों को लकड़ी के पटरों से छिपाने कोशिशें की जा रही हैं। उस पर तुर्रा ये कि इस जर्जर बालकनी के नीचे की गैलरी बच्चों के लिए रिजर्व रखी गई है।

greenpark-kanpur-is-ready-for-the-500th-test-match

उधर निर्माण कार्य की गुणवत्ता के हालात यह हैं कि ग्रीनपार्क स्टेडियम की सबसे वीवीआईपी ‘डायरेक्टर्स पवेलियन’ जरा सी बरसात में जलमग्न हो जाती है।रविवार को जरा सी बारिश ने पूरे ग्रीनपार्क को डायरेक्टर्स पवेलियन की ओर रुख करने को मजबूर कर दिया। ग्रीनपार्क का यह पूरा वीवीआईपी इलाका किसी मलिन बस्ती सा नजर आ रहा था।महज 15 मिनट की बारिश में यह वीवीआईपी गैलरी जलमग्न हो गई। ग्रीनपार्क को अंतिम रूप दे रहे यूपीसीए के अधिकारी और कर्मचारी मौन साधे रहे।

ग्रीनपार्क की मरम्मत का और देखरेख का काम कर रहे यूपीसीए के ललित खन्ना ने सफाई पेश करते हुए कहा, अभी सफाई हो रही है।उधर बेहद जर्जर हालात में बालकनी की मरम्मत का काम शनिवार को भी हुआ। 500वां टेस्ट मैच बच्चों को फ्री में दिखाने की योजना की घोषणा आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला तीन दिन पहले ही कर चुके हैं। यूपीसीए ने फ्री में दी जाने वाली जगह को सी बालकनी के नीचे चुना जो पहले से ही जर्जर स्थिति में हैं।