नकल विहीन परीक्षा कराने के वायदे हो रहे फेल, परीक्षा स्थल पर मांगी जा रही है मोटी रकम

फतेहपुर। नकल विहीन परीक्षा कराने के सरकारी दावे बड़े बड़े किये जाते हैं मगर अमली जामा पहनाने में सरकार और उनके नुमाइंदे काफी पीछे खड़े नजर आ रहे है। जैसा पैसा वैसी डिग्री, मोटी रकम लेकर यहाँ पर मुन्ना भाईयो की व्यवस्था से लेकर नकल माफियाओ ने सारे इंतिजाम कर रखे हैं। वहीं मनचाहे ढंग से पेपर दिलवाना,मुन्ना भाई से कॉपी लिखवाना, यह यहां का चलन सा हो गया हैं। नकल और पैसे को लेकर एक ऐसी घटना सामने आयी हैं जिसने महिला को भी नहीं बख्शा और उसको शर्मशार कर डाला।

फतेहपुर जिले के थाना धाता क्षेत्र के चौधरी धर्मपाल सिंह महाविद्यालय गोपालपुर में प्रबंधक द्वारा नकल सुविधा शुल्क पूरी जमा न करने पर बीए की परीक्षा दे रही रोशनी देवी जो की संस्कृत का पेपर दे रही थी तभी विधालय प्रबंधक ने नकल का बकाया सात हजार रुपए मांगा और न देने पर कॉपी छीनकर आफिस में बैठा दिया। जब की पीड़िता ने कहा कि पहले हम 13000 हजार दे चुके हैं बाकी सात हजार रुपए आप को मिल जायेंगे। मगर प्रबंधक नहीं माना।

महिला ने अपने पति को बुला लिया पति से कहा सुनी के दौरान प्रबंधक औरवहा के स्टॉप के लोग महिला के पति को मारने लगे महिला ने अपने पति का बचाव किया उसके पहले पीड़ित महिला कुछ समझ पाती उसको भी मारा पीटा और कपडे फाड़ दिए छेड छाड़ की गयी। मामला बढ़ते देख 100 नम्बर पर सूचना देने पर मौके पर पुलिस ने पहुंच कर जायजा लिया और महिला की दी गयी तहरीर पर जांच शुरू कर दी।

 -मुमताज़ अहमद