कर्मचारियों के लापरवाही की भेंट चढ़ रही हैं, सरकार की योजनाएं

हरदोई। जहां एक तरफ प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए करोड़ों रुपए पानी की तरह बहा रही है जिससे सरकारी अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों को प्राइवेट अस्पताल से बेहतर इलाज मिल सके वहीं स्वास्थ विभाग के अधिकारियों की लापरवाही और कमीशन खोरी के चक्कर में सरकार की कई सारी योजनाएं लापरवाही की भेंट चढ़ रही है और स्वास्थ्य कर्मचारी भी समय से अस्पताल नहीं पहुंचते हैं। जिस कारण मरीजों को इधर उधर भटकना पड़ता है।

बात करें, अगर हम जिला अस्पताल हरदोई की तो अस्पताल परिसर में बना रोगी सहायता केंद्र सफेद हाथी साबित हो रहा है वहीं जिला महिला अस्पताल में भी रोगी सहायता केंद्र पर बड़ा सा ताला नजर आता हऔर 108- 102 कक्ष में भी कर्मचारी ताला डालकर अपने घरेलू काम निपटाने चले जाते है जिस कारण अस्पताल आने वाले मरीजों को इधर उधर भटकना पड़ता है। मगर स्वास्थ विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है क्योंकि जिम्मेदार अफसर भी इन कर्मचारियों के ऊपर कार्यवाही करने की जद्दोजहद नहीं उठाते हैं जिस कारण सरकार की महत्वपूर्ण योजनाएं लापरवाही की भेंट चढ़ती नजर आ रही है मगर स्वास्थ विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों के ऊपर इस बात का कोई फर्क नहीं पड़ता है।

 -आशीष सिंह, संवाददाता हरदोई