पासपोर्ट की रैंकिंग में जर्मनी सबसे पॉवरफुल, अफगानिस्तान सबसे कमजोर

नई दिल्ली, । पासपोर्ट के आधार पर रैंकिंग करने वाली अंतर्राष्ट्रीय संस्था एरटॉन कैपिटन ने जर्मनी के पासपोर्ट को दुनिया में सबसे पॉवरफुल बताया है। वहीं अफगानिस्तानी पासपोर्ट दुनिया का सबसे कमजोर पासपोर्ट माना गया है। पाकिस्तान इस मामले में अफगानिस्तान के बाद है| मतलब दुनिया का दूसरा सबसे कमजोर पासपोर्ट वाला देश। इस विश्व रैंकिंग में भारत को 78वां स्थान मिला है।

 

पासपोर्ट रैंकिंग दरअसल किसी पासपोर्ट से आप कितने देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकते हैं, इस आधार पर की जाती है। किस देश के पासपोर्ट पर आपको दुनिया के कितने देशों में वीजा के लिए पहले से आवेदन करने की जरुरत नहीं होती, उस आधार पर दुनियाभर के देशों के पासपोर्ट के पॉवरफुल होने या कमजोर होने को आंका जाता है। इस तरह यूरोपीय देश जर्मनी का नागरिक अपने पासपोर्ट से दुनियाभर के 157 देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकता है। इसके बाद स्वीडन, सिंगापुर के पासपोर्ट का नंबर आता है, जिस पर आप दुनिया के 156 देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकते हैं।

यूएस, यूके, फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड, नॉर्वे, डेनमॉर्क, फिनलैंड जैसे देशों के पासपोर्ट पर आप 155 देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकते हैं। इस सूची में अफगानिस्तान 23 देशों में वीजा फ्री यात्रा के साथ सबसे नीचे है। नीचे से दूसरे पायदान पर 26 देशों में वीजा फ्री यात्रा सुविधा के साथ पाकिस्तान है, वहीं नीचे से तीसरे पायदान पर इराक है, जहां का नागरिक अपने ईराकी पासपोर्ट से 28 देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकता है। इस सूची में भारतीय पासपोर्ट का नंबर 78वां है। भारतीय पासपोर्ट से आप 46 देशों में वीजा फ्री यात्रा कर सकते हैं।