गैंगस्टर आनंदपाल की बेटी पहुंची अपने गांव

राजस्थान। गैंगस्टर आनंदपाल की बेटी की हो सकती है गिरफ्तारी ,एनकाउंटर में मारा गया गैंगस्टर आनंदपाल जिसके शव को उसके परिजन लेने से मना कर रहे है। आनंदपाल का शव इस समय चूरु में ही है। आनंदपाल के परिजनों ने शव लेने से मना कर दिया है। आनंदपाल के परिजनों के साथ गांव के सभी लोग गांव के बाहर टैंट लगा कर बैठे हुए है गांव वाले और आनंदपाल के परिजन अपनी मांगों पर अड़े हुए है। आनंदपाल के परिजनों की मांग है की आनंदपाल का एनकाउंटर फर्जी है और इस पूरे एनकाउंटर की जांच सीबीआई करे।

गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के एनकाउंटर के बाद आनंदपाल की बेटी अपने पैतृक गांव सांवराद पहुंची है। आनंदपाल की बेटी का नाम चरणजीत उर्फ चीनू बताया जा रहा है,चरणजीत बहुत समय से दुबई में रहे रही थी। सूचना के मुताबिक पुलिस आनंदपाल की बेटी को गिरफ्तार कर सकती है।

चरणपाल का कहना है की उसने किसी भी तरह का कोई अपराध नहीं किय है,अगर उसने कोई अपराध किया है तो उसे दुबई जाते समय एयरपोर्ट पर क्यों नहीं रोका गया। उसका कहना है की वह दुबई में मौज मस्ती नहीं कर रही है,बल्कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है। पुलिस के अधिकारी उसे मेरे परिवार को बिना किसी वजह के परेशान कर रहे है।

पुलिस से मिली सूचना के मुताबिक आनंदपाल 27 जून 2006 को डीडवाना के गोदारा मार्केट में जीवन गोदारा,हरफूल जाट और पप्पू मेघवाल की गोलियों से छननी कर हत्या कर दी थी,इस घटना के बाद ही आनंदपाल ने अपराध की दुनिया में चर्चित हुआ था। इसके बाद आनंदपाल से जुड़े कई और मामलों में सामने आया जिसके बाद ही आनंदपाल बड़ा अपराधी बन गया था।