महिला प्रधान के साथ सामुहिक दुष्कर्म, जान से मारने की मिल रही है धमकी

फतेहपुर। सूबे में कानून व्यवस्था को सुधारने की भले ही कोशिशें की जा रही हो लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है। मामला उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले का है जहाँ एक महिला प्रधान के साथ सामुहिक दुष्कर्म की वारदात हुई। पीड़िता थाने गई तो उसकी रिपार्ट तक दर्ज नही की गई और अब वह अफसरों के यहाँ न्याय की फरियाद लेकर भटक रही है प्रदेश के cm को भी पत्र भेजकर न्याय की गुहार कई दिनों से लगा रही हैं  लेकिन किसी ने नही सुनी अब तो हालात ऐसे है कि जिन लोगो ने वारदात को अंजाम दिया वो जान से मारने की धमकी भी दे रहे है। 

फतेहपर जिले में न्याय के लिए भटक रही यह महिला आम महिलाओ में नही है बल्कि हसवा ब्लाक के मटिहा गांव की ग्राम प्रधान है गांव की जनता ने उसे वोट देकर  गांव के सदन की जिम्मेदारी दी लेकिन अब वो खुद इस कदर से पीड़ित है कि उसकी सुनने वाला कोई नही। पीड़िता प्रधान की माने तो वो शहर से 1 मार्च को अपने गांव देवर के साथ जा रही थी तभी गाजीपुर थाने के सरकी के निकट देवर् ने बाइक रोक शौच करने लगा, इसी बीच तीन युवक आये उसे जबरन उठा ले गए और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए जब पीड़िता थाने गई लेकिन उसकी रिपोर्ट लिखने के बजाय सीधे पुलिस ने टरका दिया उसके बाद से वो आरोपियों को सजा दिलाने के लिए दर दर भटक रही है इतना ही नही जिले के अफसरों से लेकर अब प्रदेश के cm को भी पत्र भेजा है लेकिन कोई सुनवाई नही हुई उल्टा मामले को तूल पकड़ता देख आरोपियों ने जान से मारने की धमकी देनी सुरु कर दी है।

फ़िलहाल ऐसे संवेदन शील मामले में एसपी उमेश कुमार ने बताया की महिला के पति के खिलाफ पहले से ही रेप का मुकदमा पंजीकृत है इसलिए यह महिला इन लोगों को फ़साने के लिए ऐसा कर रही है , लेकिन इसके बावजूद भी जांच कराकर उचित कार्यवाही की जायेगी। 

 -मुमताज़ अहमद