पुलिस के दावों की खुलती पोल, अब भी सक्रिय है तस्कर

बागपत।  भले ही पुलिस तस्करी पर लगाम लगाने के दावे करती हो लेकिन पुलिस के दावों की पोल इससे साफ खुलती है की पुलिस की मिलीभगत से पशु तस्कर सक्रीय है।  जी हां ताजा मामला बागपत के बड़ौत कोतवाली क्षेत्र का है जहां पशुओं से भरा एक ट्रक बॉर्डर की चौकियों को पार कर बड़ौत क्षेत्र के दिल्ली सहारनपुर हाइवे पर पहुंचा, तो पुलिस उसका पीछा करने लगी और अनियंत्रित होकर खाई में जा फंसा और तस्कर मौके से फरार हो गए। जिससे गुस्साए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस के खिलाफ हंगामा किया वही मौके पर पहुंचे पुलिस के अधिकारी जांच में जुटे है और कार्यवाई करने की बात कह रहे है। 
दरअसल बागपत हरियाणा सटा हुआ जिला है और यही से शराब और पशु तस्कर पुलिस की की मिलीभगत से चौकियों और थानों पर कर उत्तर प्रदेश की अन्य जनपदों में पहुंच जाते है। आपको बता दें कि बागपत पुलिस तस्करों पर लगाम लगाने के दावे करती है लेकिन पुलिस की पोल खोलने के लिए ये काफी है। कोतवाली बागपत क्षेत्र की हरियाणा बॉर्डर पर बनी निवाड़ा चौकी को पार कर पशुओं से भरा एक ट्रक जैसे ही दिल्ली यमनोत्री हाइवे पर कोतवाली बड़ौत क्षेत्र के बडौली गांव के पास पहुंचा तो पीछा कर रही जीप को देखकर अनियंत्रित होकर बीजली के खम्बो को तोड़कर खाई में फंस गया और तस्कर मौके से फरार हो गए।
वही बीजेपी के नेताओ ने पुलिस पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए हंगामा किया है फिलहाल मौके पर पहुंचे पुलिस के अधिकारी मामले की जांच में जुटे है और जल्द तस्करों को गिरफ्तार कर कार्रवाई करने की बात कह रहे है।
अजय, संवाददाता