एटीएम बदल कर की ठगी

रुड़की। नोट बंदी के बाद जहाँ बैंकों की मिलीभगत के मामले लगातार सामने आ रहे है वही बरेली में बैंक ऑफ़ बड़ोदा के जीएम को गोली मारने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। बॉब के जीएम एसआर सोलंकी को आज सुबह मॉर्निंग वॉक के वक्त बाइक सवार दो बदमाशों ने गोली मार दी। जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया।

rurkee

रुड़की पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है रुड़की की गंगनहर पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो एटीएम की लाइन में लगे लोगो के एटीएम कार्ड बदलकर उनसे ऑनलाइन खरीदारी किया करता था पुलिस ने इस गिरोह के पास से लाखो की ज्वेलरी सहित काफी संख्या में घरेलू सामान भी बरामद किया है जो इस गिरोह ने दूसरे लोगो के एटीएम पर ऑनलाइन ख़रीदा था पुलिस ने इनके पास से अलग अलग बैंको के 19 एटीएम भी बरामद किये है पुलिस ने इस गिरोह के एक सदस्य अरुण को गिरफ्तार किया है लेकिन गिरोह के एक महिला सहित तीन साथी पुलिस को चकमा देकर फरार होने में सफल हो गए है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है !

पुलिस की गिरफ्त में आया यह गिरोह अपनी इस ठगी के काम को काफी दिनों से अंजाम देता आ रहा था लेकिन नोटबंदी के बाद से एटीएम मशीनों पर लाइन लगने के कारण इनकी चांदी कटने लगी और एक दिन में यह चार से पांच लोगो को अपना शिकार बनाने लगे !

यह लोग एटीएम की लाइन में लगने से पहले उन लोगो को अच्छी तरह से भांप लेते थे जिनके साथ यह आसानी से एटीएम कार्ड बदल सकते थे यह ज्यादातर बुजुर्ग लोगों को अपना निशाना बनाते थे जो परिवार के रूपये निकालने के लिए एटीएम की लाइन में लगे होते थे इनके पास हर बैंक के एटीएम कार्ड मौजूद रहते थे इसीलिए वो जिसका भी एटीएम कार्ड बदलते थे उसे उसी बैंक का एटीएम देते थे।

rp_shakeel-anwer-roorkee-uttarakhandशकील अनवर, संवाददाता