पथनौड़ी में एक ही परिवर के चार लोगों की नदी में डूबने से मौत

हमीरपुर। हमीरपुर जनपद मे राठ के कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत ग्राम पथनौड़ी के एक ही परिवार मे निषाद जाति के चार लोगों की मौत विरमा नदी में डूबने से हुई। जिसमे एक का शव अभी भी नही मिल सका है। जबकि तीन शवों का पोस्टमार्टम पुलिस द्वारा रात्रि में ही कर दिया गया था। रात्रि से लेकर सुबह तक गोताखोरों की टीम नही पहुंची। गांव के लोग रात भर शव को नदी में ढूढ़ते रहे पर शव का कोई अता पता नही चल सका तब थक हार कर गांव के लोग भी शांत हो गए। सुबह करीब 9बजे गोताखोरों की टीम पहुंची और फिर से शव की तलाश शुरू की तब जाकर 10 बजे करीब शव मिल सका। चारों मृतक मेला देखकर मवई से घर जा रहे थे।

जानकारी के अनुसार राठ के ग्राम पथनौड़ी से सुनीता अपने मायके से अपने बच्चों के साथ ग्राम मवई का मेला देखने गई थी।वह राठ के चरखारी रोड पर अपनी ससुराल से मकर संक्राति पर मेला देखने चली गई थी। और मेला देखने के बाद शाम को शार्टकट रास्ते से सुनीता 35 वर्ष बच्चे कपिल 6 वर्ष प्रतिमा 12 वर्ष अन्नू 8 वर्ष नदी पार करने के लिए ट्रैक्टर के ट्यूब की नाव में बैठकर नदी पार करने लगी अभी नाव नदी के किनारे के पास ही पहुंची थी कि वह पलट गई। जिससे 35 वर्षीय सुनीता पत्नी कंधीलाल रैकवार निवासी चरखारी रोड व उसके बच्चे नदी में डूब गए। जिसमे चारों की मौत हो गई। जिसमे तीन के शव रात में ही निकाल लिए गए। जबकि कपिल का शव कहीं नही मिला जिसे रात भर ग्रामीणों ने तलाश किया पर कपिल का शव नही मिल सका, प्रशासन की तरफ से रात भर कोई गोताखोर नदी के पास नही पहुंचा जिससे ग्रामीण काफी आक्रोशित नजर आए।

ये जानकारी नदी किनारे मौके पर मौजूद घनश्याम ने दी ,प्रशासन द्वारा रात्रि में ही तीनों का पोस्टमार्टम करा दिया गया। कपिल की तलाश मे सुबह जब गोताखोर नदी पर पहुंचे तब जा कर कपिल का शव सुबह 10 बजे करीब मिल सका करीब 15 घण्टे के बाद गोताखोर घटना स्थल पर पहुंचे। इस घटना से गांव व परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

 -सन्तोष चक्रवर्ती