कहीं फास्टफूड तो नहीं बन रहा आपके मोटापे की वजह…

नई दिल्ली। बिजी लाइफस्टाइल और काम काज के बीच लोगों को अपने ऊपर ध्यान देने का समय ही नहीं मिलता। ऐसे में लोगों की निर्भरता ज्यादातर बाहर के खाने और फास्टफूट पर बढ़ जाती है। ज्यादातर लोगों के अपने बिजी शेडटूल के बीच व्यायाम करने का भी समय नहीं मिलता। रोजमर्रा की दिनचर्या में इस तरह का भोजन और स्वास्थय के प्रति लापरवाही बरतने से लगातार मोटापा, बीपी आदि की बीमारियां बढ़ने का खतरा पैदा हो जाता है। वीएलसीसी की संस्थापक और उपाध्यक्ष वंदना लूथरा ने मोटापे से बचने के लिए ये सुझाव दिए हैं :

board

– हर दिन नाश्ता करें। दिन का यह सबसे महत्वपूर्ण भोजन है।

– आहार में कैलोरी की मात्रा का ध्यान रखें। कम कैलोरी, कम शर्करा और कम वसा वाले भोजन ग्रहण करें। संतुलित आहार लेना आवश्यक है। ताजे फल, सब्जियां, नट्स, साबुत अनाज आदि लें।

– कम से कम रोज 30 मिनट व्यायाम करें यह शरीर की चर्बी को घटाने के साथ ही मोटापे से संबंधित बीमारियों जैसे मधुमेह, ह्रदय रोग होने की संभावना भी कम करता है। यह उच्च रक्तचाप और तनाव को भी कम करता है। कमर के आसपास और पूरे शरीर की चर्बी को कम करने के लिए व्यायाम करना फायदेमंद होता है।

– पर्याप्त नींद लेने की कोशिश करें क्योंकि अनियमित नींद और अनिद्रा से वजन बढ़ने की संभावना होती है। अनिद्रा के शिकार लोग आलस व थकान के कारण व्यायाम नहीं कर पाते हैं।

– अगर आप मोटे हैं तो विशेषज्ञ से सलाह करना नहीं भूलें और मदद लेने में हिचकिचाएं नहीं।