दिल की बीमारियों से बचने के लिए करें ये एक्टिविटीज…

नई दिल्ली। आजकल के समय में हर तीसरे आदमी को हदय से जुड़ी बीमारियां हो जाती हैं। इस तरह की बीमारियों के पीछे कई कारण होते हैं। बदलती लाइफ स्टाइल ने हमारे दिल के लिए खतरा बढ़ा दिया है। जीवनशैली व खानपान में बदलाव ने लोगों को हृदय संबंधी रोगों की परेशानियों से घेर रखा है। हृदय रोग किसी भी उम्र में हो सकते हैं। ये रोग ऐसे होते हैं जिनका इलाज बहुत मुश्किल होता है। इसलिए हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम शुरू से ही अपने हृदय की खास देखभाल करें और उसे स्वस्थ रखें।

स्ट्रेस को कहें बाए-

ज्यादातर दिल की बीमारियों के होने के पीछे स्ट्रेस कारण होता है। जितना ज्यादा अप खुश रहेंगे उतना ज्यादा आपका शरीर स्वस्थ रहेगा। आजकल के समय में तनाव हमारी लाइफ का एक हिस्सा बन गया है। आॅफिस हो या घर हर जगह हम स्ट्रेस से जूझते रहते हैं, लेकिन तनाव आपके दिल के लिए बिल्कुल अच्छा नहीं। इसलिए तनाव मुक्त रहने की कोशिश करें। इससे आपको हृदय रोग को रोकने में मदद मिलेगी।

कोलेस्ट्रॉल को करें काबू-

अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल को 130 एमजी/ डीएल नियंत्रण में लाएं। चिकन, मटन और तेल-मसाले युक्त खाने में सबसे ज्यादा कोलेस्ट्राल होता है। जितना हो सके इस तरह की चीजों से दूर रहें। अगर आपके  लीवर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो ये आपके लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है। जिसके लिए आपको डाॅक्टर और दवाओं का सहारा लेना पड़ सकता है।

योग एवं व्यायाम का लें सहारा-

रोज 15 मिनट का योगा और एक्सरसाइज आपको कई बीमारियों से दूर रखने के साथ-साथ दिल की बीमारियों से भी दूर ले जाएगा। इससे आपका ब्लड प्रेशर भी कम होगा। आप जितने ज्यादा एक्टिव रहेंगे उतना ज्यादा आपके दिल की सेहत ठीक रहेगी।

वजन को करें कंट्रोल- 

ऐसा देखा जाता है कि जिन लोगों का वजन ज्यादा होता है वो कई सारी बीमारियों से जूझ रहे होते हैं। शरीर में बीमारियों की शुरूआत तेजी से बढ़ते वजन से भई हो सकती है। खाने पीने की चीजों पर कंट्रोल न रखने, फास्ट फूड को अपनी डाइट में ज्यादा लेने से वजन बढ़ता जाता है जो कि काफी खतरनाक होता है। तेल मसाले के खाने से परहेज और रेशे वाले अनाजों तथा उच्च किस्म के सलादों के सेवन द्वारा आप अपने वजन को नियंत्रित कर सकते हैं।