पांच एटीएम हैकर्स हुए गिरफ्तार : संत कबीर नगर

उत्तर प्रदेश। देश के कोने कोने में आम जनता को बैंक का कर्मचारी बनकर उनके ए टी यम का पिन नंबर जानकर फ्राड करने वाले पाँच आरोपी 11 लाख रूपये के ऑन लाइन शॉपिंग करके बेचने के फिराक में लगे पांच आरोपियों को गिरफ्तार करके आम जनता को राहत पहुंचाने के साथ पुलिस के जवानो ने एक बड़ा कीर्तिमान स्थापित किया है।

आपको बता दें की काफी दिनों से मिल रही एटीम हैकर्स की शिकायत ने जहा पुलिस के नाक में दम कर रखा था और इन हैंकरो को गिरफ्तार करना पुलिस के लिए किसी चुनौती बनी हुई थी इन एटीम हैंकर्रो के द्वारा दूसरों के एटीएम से पैसा निकल जाने के कई मामले जिले में ही नही पूरे प्रदेश व देश मे सुनने को मिल रहे है जिसमे एटीएम हैकर्स ऑनलाइन खरीददारी करते थे।

ऐसे ही एक गिरोह का संत कबीर नगर जिले की कोतवाली पुलिस और स्वाट टीम की मदद से एक बड़ा खुलाशा हुआ है पकड़े गए आरोपी उत्तर प्रदेश से लेकर दिल्ली गुजरात व्क हरियाणा प्रान्त तक धोखा धडी का कार्य करके लोगों के खातो से पैसा निकालकर आन लाइन खरीद करके अपने शौक को पूरा करना इनका मुख्य उद्देश्य था। गिरफ्तार आरोपियों के पास से 6 लैपटॉप,76 डिब्बे प्रोटीन पावडर,9 रिकॉर्डर चश्मा,2 एटीएम कार्ड क्लोन मशीन,26 ब्लेंक एटीएम कार्ड,12 हाई टेक्नॉलजी वाले मोबाइल,ड्रोन कैमरा,बाइक रेसिंग किट,स्मार्ट बैलेंस व्हील,और ऑनलाइन खरीद से प्राप्त गोल्ड कुआइन बेचकर नगद 25 हजार रुपये के अलावा अन्य सामान भी बरामद किया गया,जिसकी की कुल कीमत 11 लाख रुपये बताई जा रही है।

पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना ने बताया की पकड़े गए युवक अपने महंगे शौक पूरा करने के लिए ये अपराध करते थे। जिनकी उम्र 18 से 25 वर्ष के बीच है,जो कंप्यूटर के बारे में काफी अच्छी जानकारी रखते है। इस गिरोह में सन्नी नेहरा को दिल्ली पुलिस ने पहले भी आईटी एक्ट के तहत जेल भेज चुकी है।