बलरामपुर में पेट्रोल पंप मालिकों पर दर्ज हुई FIR

बलरामपुर।  देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश में सत्ता पलट होने के साथ ही योगी सरकार एक्शन में आ रखी है। सूबे को बेहतर बनाने के लिए योगी सरकार द्वारा आए दिन सख्त कदम उठाए जा रहे हैं। योगी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से सूबे में अपराधियों पर खूब सख्ती बर्ती जा रही है। ऐसे में बलरामपुर जिले के चार पेट्रोल पंप मालिकों पर एफआईआर दर्ज की गई है। गत दिनों योगी सरकार के निर्देश पर पेट्रोल पम्पों के विरुद्ध चलाए गए जांच अभियान के दौरान जिले के सभी 48 पेट्रोल पम्पों की जांच की गयी थी।

योगी सरकार के आदेश के बाद पेट्रोल की धांधलेबाजी को रोकने के लिए अभियान चलाया गया। अभियान के तहत चार पेट्रोल पंपों की मशीनों में छेड़छाड़ की शिकायत पाई गई। मशीनों में छेड़छाड़ पाए जाने के बाद तुरंत ही मशीनों को सीज करके जांच के आदेश दिए गए थे। जांच में मशीन में गड़बड़ी किए जाने की पुष्टि हुई है। जिसके बाद संबंधित पेट्रोल पंप मालिकों पर जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा कोतवाली देहात, थाना महराजगंज तराई व थाना तुलसीपुर मे एफआईआर दर्ज कराया गया है। इस कार्रवाई के बाद पेट्रोल पंप मालिकों में हड़कंप मचा हुआ है। पूर्ति अधिकारी बृजेश मिश्र के अनुसार बंसल ऑटो मोबाइल नहर बालागंज, हमारा पंप महराजगंज, ओम ऑटो मोबाइल रमवापुर तुलसीपुर तथा सरदार बल्देव सिंह ऑटो मोबाइल तुलसीपुर के संचालकों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराया गया है। फिलहाल आगे की कार्रवाई की जा रही है।

दूसरी तरफ अब यह साफ हो गया है कि किसी दिक्कत चाहे किसी भी प्रकार की हो। योगी सरकार के सत्ता में आने के बाद उस दिक्कत को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। चाहे वो अपराध पर लगाम लगाने की बात हो या फिर पुलिस द्वारा लापरवाही बरतना हो। अब तो साफ तौर पर देखने को भी यह मिल रहा है कि जहां पूर्व सरकार के वक्त अपराध होने पर भी पुलिस चुप चाप बैठी रहती थी तो सूबे में सत्ता पलट होने के बाद अब पुलिस अपराध होने से पहले ही उसे रोकने का प्रयास कर रही है।