मुआवजा ना मिलने से किसानों ने की अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू

मेरठ। एक साल बीत जाने पर भी एमडीए गंगानगर, मोहियानगर और वेदव्यासपुरी के किसानों के मुआवजे का हिसाब-किताब तैयार नहीं हो पाया है। जिसके विरोध में बृहस्पतिवार को गंगानगर के किसान एमडीए दफ्तर पहुंच गए। गंगानगर, लोहियानगर और वेदव्यासपुरी के किसान इकट्ठा होकर मेरठ विकास प्राधिकरण पहुंचे हैं। जहां पहुंच कर किसानों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है।

किसानों का कहना है कि बोर्ड ने एक साल पहले ही उनके समझौते को पास कर दिया था। लेकिन इतना वक्त बीत जाने के बाद भी किसानों को उनका कह नहीं मिला है। जिसके बाद अब किसानों का धैर्य जवाब देने लगा है। जानकारी के अनुसार अभी तक किसानों की फाइले तक तैयान नहीं की गई है।
मुआवजा ना मिलने से किसान रोष में आ गए हैं और अब किसान आंदोलन पर उतर आए हैं। किसानों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि फिलहाल तो उनकी अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू हुई है। लेकिन इसके बावजूद उनकी मांगे पूरी नहीं की जाती हैं तो वे प्राधिकरण के योजनाओं में चल रहे कामों को बंद करा देंगे। किसानों मुआवजा ना मिलने पर आवंटियों के कामों को भी बंद करने की बात भी कही।

उधर इस मामले में एमडीए 28 तारीख को बुलंदशहर के एक प्रकरण की हाईकोर्ट में होने वाली सुनवाई का इंतजार कर रहा है। एमडीए के अधिकारियो की माने तो वे इस मामले में बुलंशहर के फैसले का इंतजार कर रहे हैं और जो भी फैसला आएगा, उसी के आलोक में यहां भी अमल किया जाएगा।