दबंग प्रधान की दबंगई के आगे बेबस किसान

फतेहपुर। सूबे के मुखिया अखिलेश यादव किसानों की बात तो करते हैं। मगर शायद उनको किसानों का दर्द नज़र नहीं आता। एक किसान जिसने रात दिन मेंहनत कर के फसल खड़ी करता है। इस उम्मीद के साथ की फसल तैयार होने पर उसका कुछ भला हो जायगा। मगर बेबस किसान के साथ गाँव के प्रधान ने सत्ता की हनक के आगे किसान को अपने आगे झुकने के लिए मजबूर कर दिया। प्रधान चक रोड बनवा रहा हैं।

उस रोड पर मिटटी मानक के विपरीत लोगो के खेतो से निकला के चक रोड में पुराई करवा रहा हैं। जिसका विरोध किसानों ने किया मगर उसकी दबंगई के सामने अपने अपने घरो में जाकर बैठ गए। मगर कुछ किसानों ने इसका खुल कर विरोध इस लिए किया की उनकी खड़ी फसल से चक रोड जबरन प्रधान निकाल रहा था। अपने को मुख्यमंत्री का हितैषी बताने वाले प्रधान के आगे किसी की मजाल की वह उसके विरुद्ध अपना मुँह खोल सके।

उत्तर प्रदेश फतेहपुर जिले के असोथर कस्बा निवासी उदयवीर जो की खेती किसानी करके अपने परिवार की जीविका चला रहा हैं। उसके पास दूसरा कोई कार्य नहीं जिससे वह अपने परिवार की जीविका चला सके। गाँव के प्रधान पति राम किंकर अवस्थी वहां पर चक रोड बनवा रहे हैं। रोड तो बन रही हैं मगर अगल बगल किसानों के खेतो की मिटटी खुदवा कर रोड की पुराई करवा रहे। यही नहीं आगे चक रोड जाना हैं। इतनी चौड़ी चक रोड बनवा रहे हैं लोगो के खेत भी उस रोड में जा रहे हैं। वह भी किसान की खड़ी फसल जिस फसल पर किसान की उम्मीदे टिकी हुई है।

मगर शायद इन बातो से प्रधान जी को कोई लेना देना नहीं ।किसानों का कहना है फसल कटने के बाद रोड बनवाये जिससे हमारी फसल का नुकसान न हो। मगर प्रधान जी को तो वही करना हैं जो उनकी सोच हैं। क्योंकि उसी रास्ते पर प्रधान जी के खेतो की एक बड़ी चक है। रोड बनने से उन खेतो की कीमत बढ़नी है। इस पीड़ित किसान ने आलाधिकारियों के दरबार में भी गुहार लगाई । जिसपर लेख पालो की एक टीम नाप जोक के लिए भेज दी गई।

मगर उससे कोई हल निकलता नज़र नहीं आ रहा हैं। आखिर कार चुनाव नज़दीक हैं। ऐसे समय में अपने आप को मुख्यमंत्री का करीबी बताने वाला प्रधान अगर जनता और किसान का भला नहीं कर सकता तो किसान की खड़ी फसलों का नुक्सान तो होगा ही। क्या इसी तरह का गाँव का विकास होता है। विकास का नारा देने वाले प्रधान कहीं न कहीं सवालो के कटघरे में खड़े होते नज़र आ रहे हैं। इस बारे में प्रधान पति से बात की गयी तो उन्होंने बताया की हमारा काम हैं विकास कराना हम विकास करा रहे हैं।

वही जब इस सम्बन्ध में उपायुक्त श्रम रोजगार अधिकारी पुतान सिंह से मीडिया ने जानकारी लेनी चाही की क्या बनाई जा रही कच्ची रोड के लिए खड़ी फसल से मिटटी निकालने का प्रावधान है। क्या आपने आदेशित किया है खेतो से मिटटी निकलने के लिए। उन्होंने बताया ऐसा नही है इसकी जाँच करा जो उचित कार्यवाई होगी की जाएगी। अब देखने वाली बात यह है, कि क्या किसान को न्याय मिलेगा क्या अखिलेश यादव का करीबी बताने वाले दंबग प्रधान पति के खिलाफ कोई कार्रवाई करने की हिम्मत जुटा पाएंगे अधिकारी।

मुमताज़ अहमद इसरार, संवाददाता